होली पर नहीं करें शराब का सेवन, चप्पे चप्पे पर रहेगी बाइक दस्ते की नजर, उप्ताद उपायुक्त ने दिए ये निर्देश

जानकारी

बिहार में शराबबंदी को प्रभावी बनाने के लिए प्रशासन ने पूरी ताकत लगा दी है। रंगों के त्योहार होली को शराब मुक्त बनाने की रणनीति तैयार हो गई है। होली में बाइक दस्ता शराबियों और शराब के धंधेबाजों पर निरगानी रखेगा। बाइक दस्ता लगातार गश्त करेगा और पकड़े जाने पर कठोर कार्रवाई करेगा। उत्पाद आयुक्त बी कार्तिकेय धनजी ने उत्पाद अधीक्षकों को ये निर्देश दिए हैं। हर 50 किलोमीटर पर बाइक से गश्त कराने के लिए कहा है। इसके अलावा रात में भी ड्रोन की मदद से दियारा इलाकों में छापेमारी की जाएगी

त्पाद आयुक्त ने शराब के अवैध अड्डे लगाने वालों की सूची बनाने के लिए कहा है। इन्हें गिरफ्तार कर जेल भी भेजा जाएगा। चलंत फुल बॉडी स्कैनर के द्वारा राज्य के पांच चेकपोस्टों पर सघन जांच अभियान चलाने को भी कहा गया है। उत्पाद आयुक्त ने बताया कि फिलहाल 34 ड्रोन की मदद से दियारा व सुदूर इलाकों में निगरानी की जा रही है। ड्रोन की सेवा लेने के बाद पहले की अपेक्षा 100 गुना अधिक देसी शराब पकड़ी गई है। उत्पाद विभाग के अधिकारी हेलीकॉप्टर की मदद से भी लगातार बक्सर से भागलपुर तक हवाई सर्वे कर रहे हैं। इस दौरान अवैध शराब के लिए बदनाम जगहों की मैपिंग की जा रही है। गंगा नदी के 30 किमी उत्तर एवं 30 किलोमीटर दक्षिण तक निगरानी रखी जा रही है।

किशनगंज में अवैध कारोबारियों की मदद करने के मामले में एक सिपाही सुधांशु कुमार को बर्खास्त कर दिया गया है, जबकि एक सहायक अवर निरीक्षक अजय कुमार और एक सिपाही रणविजय कुमार की पांच वार्षिक वेतनवृद्धि रोक दी गयी है। इसी तरह पटना में एक व्यक्ति के पास एक बोतल विदेशी शराब मिलने पर उससे अवैध राशि की वसूली के मामले में दो मद्य निषेध सिपाही विनय कुमार राय और प्रवीण कुमार की एक-एक वार्षिक वेतनवृद्धि पर रोक लगायी गयी है। सीवान में शराब छापेमारी के दौरान अनियमितता बरतने, अवैध शराब को मालखाना में रखने के आरोपित एक निरीक्षक जनार्दन प्रसाद और एक अवर निरीक्षक राजेश कुमार सिन्हा को पांच-पांच वार्षिक वेतनवृद्धि पर रोक की सजा सुनायी गयी है। इसके साथ ही बेतिया के तत्कालीन मद्य निषेध अधीक्षक लाला अजय कुमार सुमन को वर्ष 2021-22 के लिए निंदन का दंड दिया गया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.