हाईकोर्ट में तेज प्रताप यादव और ऐश्वर्या राय की 45 मिनट काउंसलिंग, तलाक केस में बात नहीं बनी

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के पूर्व मंत्री और राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव की पत्नी ऐश्वर्या राय की अपील पर मंगलावर को हाईकोर्ट ने सुनवाई की। जस्टिस आशुतोष कुमार सिंह और जस्टिस जीतेंद्र कुमार की खंडपीठ ने इस अपील पर सुनवाई करते हुए दोनों पक्षों को सुलह का प्रयास करने को कहा। इसके लिए दोनों पक्षों के अधिवक्ताओं को इनके बीच बैठक कर सुलह के मुद्दे पर संभावना तलाशने को कहा। बंद कमरे में दोनों की काउंसिलिंग कराई गई और एक शादी बचाने का एक मौका दिया गया।

गौरतलब है कि मंगलवार को कोर्ट में तेजप्रताप यादव और ऐश्वर्या न्याय कक्ष में उपस्थित रहे। इनके साथ तेजप्रताप की मां और बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी और ऐश्वर्या के पिता भी रहे। मामले की सारी सुनवाई बंद कमरे में हुई। पिछली सुनवाई में कोर्ट ने दोनों पक्षों के अधिवक्ताओं से यह बताने को कहा कि क्या दोनों पक्षों में सुलह की संभावना है। कोर्ट ने इस मुद्दे पर दोनों पक्षों से जवाब देने को कहा था।

ऐश्वर्या की ओर से वरीय अधिवक्ता पी एन शाही ने कोर्ट के पक्ष रखा। तेज प्रताप के अधिवक्ता जगन्नाथ सिंह ने बताया कि घरेलू हिंसा को लेकर ऐश्वर्या राय के विरुद्ध पारित आदेश व भरणपोषण(मेंटेनेंस) से जुड़े मामले में राशि को बढ़ाने को लेकर हाईकोर्ट में अपील दायर की गई है। अब कोर्ट में इस मामले की सुनवाई 19 जुलाई, 2022 को की जाएगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.