RJD की याचिका हुई हाईकार्ट से रिजेक्ट, अब नीतीश सरकार के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएगा राजद

खबरें बिहार की

हाईकोर्ट से याचिका खारिज होने के बाद सरोज यादव ने कहा कि वह हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएंगे। राजद बिहार में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है और सबसे ज्यादा सीट भी राजद को मिली है। इस नाते हम एनडीए सरकार से सुप्रीम कोर्ट में लड़ेंगे।

इससे पहले पटना हाईकोर्ट ने नई सरकार के गठन वाली जनहित याचिका को खारिज कर दिया है। सोमवार को हाईकोर्ट में बिहार में नीतीश कुमार की अगुवाई वाली सरकार के गठन को चुनौती देने वाली जनहित याचिका पर सुनवाई हुई और कोर्ट ने यह कहकर याचिका को खारिज कर दिया कि पूरी संवैधानिक प्रक्रिया के तहत सरकार का गठन किया गया है।
चीफ जस्टिस राजेंद्र मेनन की खंडपीठ ने सुनवाई करते हुए बड़हरा विधायक सरोज दुबे और अन्य लोगों के खिलाफ दायर की गई याचिका पर सुनवाई की और कहा कि सरकार का गठन एक संवैधानिक प्रक्रिया है और सरकार बन चुकी है और उसने विधानसभा में अब अपना बहुमत साबित कर लिया है, ऐसे में कोर्ट इस मामले में क्या करेगा?

बता दें कि राजद नेता सरोज यादव और अन्य लोगों ने नई सरकार के गठन के खिलाफ पटना हाईकोर्ट में जनहित याचिकादायर की थी और इस पर मुख्य न्यायमूर्ति राजेन्द्र मेनन की खंडपीठ ने आज इस याचिका पर सुनवाई की। इन जनहित याचिकाओं में यह कहा गया था कि राज्यपाल ने प्रक्रिया का पालन नहीं किया और सरकार गठन के लिये उन्होंने विधानसभा की सबसे बड़ी पार्टी को आमंत्रित नही किया।





इन याचिकाओं में यह भी कहा गया है कि पिछले विधानसभा चुनाव में जनता ने बीजेपी के विरूद्ध जनादेश दिया था और महागठबंधन को जनता ने पांच वर्ष के लिए शासन करने के लिए मत दिया था, लेकिन इस तरह से बिहार में रातोरात सरकार को बदल दिया गया।
राजद ने यह भी आरोप लगाया था कि बड़ी पार्टी होने के नाते हमें पहले सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया जाना चाहिए था, लेकिन एेसा नहीं करके आनन-फानन में सरकार बना ली गई और संविधान का पालन नहीं किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *