हेलमेट मैन ने रावण की सोच को मारकर सड़क सुरक्षा जागरूकता का संदेश दिया. आज दशहरा के शुभ अवसर पर बिहार में कैमूर जिला के अंदर अकोरी पुल पर भारत के अंदर एक अनोखा जागरूकता का संदेश हेलमेट मैन राघवेंद्र कुमार ने दिया. सड़क पर जा रहे लोगों को राम और रावण दोनों मिलकर राहगीरों को 100 हेलमेट पहनाकर सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूक किया.

भारत में प्रतिवर्ष रामलीला द्वारा अधर्म के ऊपर धर्म की जीत होती है. इस धर्म की जीत में हमेशा युवा पीढ़ी भाग लेती है. लेकिन यही हुआ पीढ़ी सड़क दुर्घटना के शिकार हो रही है जिसके अंदर सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन नहीं करने की वजह से लोगों की जान भी जा रही है और युवाओं में विकलांगों की संख्या तेजी से बढ़ रही है. हर साल दुर्गा पूजा के बाद मूर्ति विसर्जन के लिए करोड़ों युवा भारत के सड़कों पर नजर आते हैं और कई दुर्घटना प्रति वर्ष देखने के लिए मिलती है. आज उसी दुर्घटना को एक अलग अंदाज में हेलमेट मैन ने जागरूकता दी है युवाओं के लिए.

अकोरी पुल पर जो ब्रेकर लगा हुआ है अभी तक 20 लोगों की जान ले ली है. और घायलों की संख्या अनगिनत है. इस बार विसर्जन के दिन ऐसे कोई दुर्घटना ना हो उसी के लिए जागरूकता का संदेश दिया गया है. आज भारत में मूर्ति विसर्जन को लेकर जिस तरह युवा ट्रक के ऊपर हुड़दंग करते हैं और पीछे से बाइक की लंबी कतार लगी रहती है देखा जाए अगर सही से तो सभी लोग ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करते हैं. और विजयदशमी पर इसी सोच पर विजई होने का संदेश दिया है हेलमेट मैन ने. भारत के अंदर आज सभी माता-पिता को अपनी संतान के प्रति उन्हें खुद जागरूक होना होगा और ट्रैफिक नियमों के लिए अपने बच्चे को जागरूक करके रावण की सोच को मारना होगा. आज भारत में युवा पीढ़ी के अंदर रावण की सोच बढ़ती जा रही है जो प्रतिवर्ष 2 लाख लोगों की मौत हो रही है. इस मौत के आगे सरकार भी घुटने टेक दी है इसलिए हमें सभी धर्म के मंच से संदेश देना होगा सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूकता की ताकि रावण की सोच की जगह आज राम की सोच पैदा हो.

आज के दिन बगाढ़ी रामलीला समिति द्वारा कैमूर जिले के अंदर सड़क सुरक्षा का संदेश देकर लोगों को जागरूक किया गया. आज के कार्यक्रम में सम्मिलित रामगढ़ रामलीला समिति के अध्यक्ष सुनील सिंह, अभय तिवारी अभिमन्यु सिंह राजू सिंह दीपक सिंह रियान सिंह, सूरज सिंह रविकांत तिवारी, अंकित कुमार ठाकुर, किशन तिवारी विशाल शर्मा ओमप्रकाश सिंह जनार्दन तिवारी मनोज सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here