जेपी सेतु पर कल से नहीं चलेंगे भारी वाहन, पुल पर अधिक दबाव पड़ने के चलते उठाया कदम

खबरें बिहार की

जेपी सेतु पर शुक्रवार से भारी वाहनों का परिचालन बंद हाे जाएगा। डीएम कुमार रवि ने कहा कि पूर्व मध्य रेल हाजीपुर के जीएम के द्वारा राज्य सरकार काे पत्र लिख कर 25 फरवरी काे जानकारी दी गयी कि भारी वाहनों के परिचालन से पुल पर अधिक दबाव पड़ रहा है। इस पत्र के मद्देनजर मुख्य सचिव से प्राप्त निदेश के तहत अगले 48 घंटे में भारी वाहनों के परिचालन पर पूरी तरह से राेक लगाने का निर्देश ट्रैफिक एसपी काे दिया गया है। दाे दिनाें के अंदर शहर के बाहर खड़े ट्रकों काे जेपी सेतु से पार करने की अनुमति है। इसके बाद भारी वाहनों का परिचालन पूरी तरह से बंद हाे जाएगा। पहले की तरह सिर्फ छोटे वाहनों का परिचालन हाेगा।

छोटे वाहन चलेंगे-पटना को जाम से राहत

फायदा क्या : भारी वाहनों के परिचालन बंद होने से बाइपास से अनीसाबाद, फुलवारीशरीफ, दानापुर आरओबी तक रात दस बजे से सुबह पांच बजे तक वाहनों की लंबी कतार से निजात मिलेगी। कभी-कभी इस जाम का असर दिन में रहता था। सगुना मोड़, दानापुर इलाके में भी राहत।

नुकसान क्या : मोकामा सेतु पहले से बंद है। अब वाहन बाइपास से फुलवारीशरीफ, नौबतपुर, बिक्रम से सहार पुल होते हुए वीर कुंअर पुल से उत्तर बिहार जाएगा। इससे करीब 125 किमी की दूर बढ़ जाएगी। इससे मालभाड़ा अधिक हो जाएगा। समय भी 2 घंटा अधिक लगेगा।

उत्तर बिहार की ओर जाने का वैकल्पिक मार्ग
डीएम ने कहा कि पटना की ओर से उत्तर बिहार की ओर जाने वाले भारी वाहनाें काे बिक्रम से महाबलीपुर सोेन नदी स्थित सहार पुल होते हुए बबुरा में वीर कुंवर सिंह पुल से पार कराया जाएगा। ताकि, जिले में जाम की स्थित नहीं बने।

काेईलवर पुल पर मरम्मत से उत्तरी लेन पर राेक जारी 
डीएम ने कहा कि कोईलवर पुल के उत्तरी लेन की मरम्मत के कारण राेक जारी रहेगी। यानी बिहटा से आरा की ओर भारी वाहनों का परिचालन नहीं हाेगा।

गांधी सेतु से छह चक्का तक के ही वाहन चलेंगे 
पहले की तरह गांधी सेतु से छह चक्का तक के वाहन चलेंगे। बालू अाैर निर्माण सामग्री से लदे भारी नहीं चलेंगे। ट्रैफिक एसपी इसकी मॉनिटरिंग करेंगे।

Sources:-Dainik Bhasakar

Leave a Reply

Your email address will not be published.