गौतम गंभीर एक अच्छे क्रिकेटर होने के साथ साथ एक अच्छे इंसान भी हैं। आज गौतम गंभीर का जन्मदिन हैं। वे पूर्वी दिल्ली से लोकसभा सांसद हैं। समय समय पर वे गरीबों और देश की सेवा करने वाले लोगों की मदद के लिए आगे आते रहते हैं। गौतम गंभीर अ ब श’हीदों के 100 बच्चों की पढ़ाई लिखाई का खर्च उठा रहे हैं।

उन्होंने रविवार को ट्वीट करके कहा कि उनका गौतम गंभीर फाउंडेशन शही’दों के 100 बच्चों की परवरिश कर रहा है। यह बताते हुए उन्हें गर्व हो रहा है।

इससे पहले भी गंभीर ने असम के एक शहीद सीआरपीएफ जवान के बेटे की परवरिश पर होने वाले पूरे खर्चें का भार उठाया। गंभीर ने असम के श’हीद सीआरपीएफ जवान दिवाकर दास के पांच वर्षीय बेटे अभिरून दास की पढ़ाई और अन्य खर्चों की जिम्मेदारी ली।

दिवाकर दास पिछले साल एक ह;मले में शही;द हो गए थे। पिता की मौत के बाद अभिरून दास अपने गांव में ही रहता था। अब अभिरून की पढ़ाई और अन्य खर्चों का वहन गंभीर ने अपने एनजीओ गौतम गंभीर फाउंडेशन के तहत करेंगे।

इससे पहले भी ले चुके है गोद-
आपको बता दें कि ये कोई पहला अवसर नहीं है जब गौतम गंभीर ने किसी श;हीद के बच्चे की परवरिश का खर्च की जिम्मेदारी अपने ऊपर ली हो। इससे पहले ही गौतम गंभीर ने अनंतनाग आ;तंकी ह’मले में शही’द हुए जवान अब्दुल राशिद की बेटी को गोद लिया था। गौतम गंभीर अक्सर ही भारतीय सेना के मसले पर अपनी राय रखते आए है।

Sources:-Live News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here