टीम इंडिया के गब्बर बाएं हाथ के ओपनर शिखर धवन ने टेस्ट क्रिकटे में धमाकेदार एंट्री मारी थी। आतिशी शतक जमाकर टेस्ट करियर का आगाज करने वाले शिखर के नाम चैंपियंस ट्रॉफी में ऐसा रिकॉर्ड दर्ज है तो सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग और विराट कोहली भी नहीं तोड़ पाए। 5 दिसंबर गुरुवार को गब्बर अपना 34 वां जन्मदिन मना रहे हैं।

5 दिसंबर 1985 को दिल्ली में जन्में टीम इंडिया के गब्बर यानी शिखर धवन बेहद ही मजाकिया शख्स हैं। शिखर ने अपने पहले ही मैच में ऐसी जोरदार पारी खेली थी जिसकी गुंज विश्व क्रिकेट में आज भी है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले ही मैच में 174 गेंद पर धवन ने 187 रन की पारी खेली थी जो डेब्यू करते हुए किसी भी बल्लेबाज का सबसे तेज शतक की पारी थी।

चैंपियंस ट्रॉफी का रिकॉर्ड आज भी अटूट

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में शिखर धवन का रिकॉर्ड शानदार रहा है। टीम इंडिया को 2013 में चैंपियन बनाने में धवन की बल्लेबाजी की अहम रही थी। इस साल वो सबसे बेहतरीन बल्लेबाज चुने गए थे। इसके ठीक बाद 2017 में भी धवन सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज चुने गए थे। भारत इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचा था।

लगातार दो चैंपियंस ट्रॉफी में गोल्डन बैट का खिताब लेने वाले धवन एक मात्र बल्लेबाज हैं। 2013 में उनके बल्ले से 363 जबकि 2017 में 338 रन निकले थे। सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, राहुल द्रविड, और विराट कोहली जैसे बल्लेबाज के नाम भी ऐसा शानदार रिकॉर्ड दर्ज नहीं है।

धवन के नाम कई रिकॉर्ड

पहले ही टेस्ट मैच में सबसे तेज शतक बनाने का रिकॉर्ड धवन के नाम पर दर्ज है। 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गे इस मैच में उन्होंने 50 गेंद पर अर्धशतक बनाया था जबकि 85 गेंद पर शतक पूरा किया था। साल 2015 विश्व कप में धवन भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। दो लगातार चैंपियंस ट्रॉफी में गोल्डन बैट हासिल करने वाले वह अकेले बल्लेबाज हैं। 2014 में उनके विजडन क्रिकेटर ऑफ द ईयर चुना गया था।

वनडे में सबसे तेज 1000, 2000 और 3000 हजार रन बनाने का रिकॉर्ड धवन के नाम पर ही दर्ज है। आईसीसी टूर्नामेंट में सबसे तेज 1000 रन बनाने वाले धवन दुनिया के पहले बल्लेबाज हैं।

Sources:-Dainik Jagran

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here