गया के विष्णुपद मंदिर में मुस्लिम मंत्री के जाने पर विवाद, इसराइल मंसूरी बोले- गर्भगृह के दर्शन करना सौभाग्य

आस्था खबरें बिहार की

बिहार में गया के प्रसिद्ध विष्णुपद मंदिर में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ मंत्री इसराइल मंसूरी के जाने से विवाद हो गया। इस मामले पर मंत्री इसराइल मंसूरी ने कहा कि ये सौभाग्य की बात है कि उन्हें सीएम के साथ मंदिर के दर्शन किए और गर्भगृह में जाने का मौका मिला। बता दें कि विष्णुपद मंदिर में गैर हिंदुओं के प्रवेश पर मनाही है। मंदिर कमेटी ने मुस्लिम मंत्री के मंदिर में प्रवेश पर नाराजगी जताई है।

मोहम्मद इसराइल मंसूरी बिहार की नई महागठबंधन सरकार में सूचना प्रोद्योगिकी मंत्री हैं। वे गया के प्रभारी मंत्री भी हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सोमवार को गया दौरे पर रहे, इस दौरान उन्होंने विष्णुपद मंदिर में पूजा अर्चना भी की। जब सीएम नीतीश मंदिर के गर्भगृह में थे तब मंत्री इसराइल मंसूरी भी उनके पीछे खड़े थे।

मंदिर में गैर हिंदुओं के प्रवेश पर रोक

गया का विष्णुपद मंदिर हिंदुओं का ऐतिहासिक धार्मिक स्थल है। यहां पर भगवान विष्णु के चरण स्थापित हैं। पितृपक्ष के दौरान लाखों लोग पितरों का तर्पण कर विष्णुपद के दर्शन करते हैं। इस मंदिर की स्थापना इंदौर की महारानी रही अहिल्याबाई होलकर ने कराई थी। मंदिर में गैर हिंदुओं के प्रवेश पर रोक है। मंदिर के बाहर बोर्ड भी लगा है जिसपर लिखा है गैर हिंदुओं का मंदिर में प्रवेश वर्जित है।

मंदिर समिति ने जताई नाराजगी, बीजेपी ने की इस्तीफे की मांग

मंदिर कमेटी के अध्यक्ष शंभू लाल विट्ठल ने कहा कि उन्हें जानकारी नहीं थी कि मुख्यमंत्री के साथ कोई मुस्लिम मंत्री भी थे। सीएम नीतीश को इसका ध्यान रखना चाहिए था। इससे श्रद्धालुओं की भावनाएं आहत हुई हैं। मंदिर कमेटी बैठकर इस पर विचार करेगी। वहीं बीजेपी विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल ने सीएम नीतीश कुमार से माफी मांगने और मंत्री इसराइल मंसूरी के इस्तीफे की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.