गोपालगंज में NOTA ने खिला दिया बीजेपी का कमल, नहीं जलने दी आरजेडी का लालटेन, जानिए कैसे

खबरें बिहार की जानकारी

गोपालगंज विधानसभा उपचुनाव में नोटा को जीत-हार के अंतर से अधिक वोट मिले हैं। यहां भाजपा प्रत्याशी को 1794 वोट से जीत मिली है, जबकि नोटा को 2170 वोट मिले। इस प्रकार नोटा को हार-जीत के अंतर से 376 मत अधिक मिले। स्पष्ट है कि नोटा से जीत-हार में बड़ा असर डाला है। यह चुनाव परिणाम बदल भी सकता था।

 

पिछली बार वर्ष 2020 के विधानसभा चुनाव में नोटा को महज 1028 वोट मिले थे। जबकि, भाजपा उम्मीदवार को 36 हजार से अधिक मतों से जीत मिली थी। तब नोटा से चुनाव परिणाम पर कोई असर नहीं डाला था।

उधर, मोकामा विधानसभा चुनाव में नोटा ने भले चुनाव परिणाम पर कोई असर न डाला हो, लेकिन उसे महागठबंधन और एनडीए उम्मीदवारों के बाद सर्वाधिक वोट मिला। वह तीसरे स्थान पर रहा। मोकामा में नोटा को 2470 वोट मिले। राजद और भाजपा उम्मीदवारों के अलावा किसी प्रत्याशी को इतना वोट नहीं मिला।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.