पथ निर्माण विभाग से अच्छी खबर, बिहार के इन 6 जिलों की सड़कों पर खर्च होंगे 216.19 करोड़

खबरें बिहार की

बिहार के 6 जिलों के लिए पथ निर्माण विभाग से अच्छी खबर है. राज्य की सड़कों की चौड़ीकरण व मजबूतीकरण की दिशा में पथ निर्माण विभाग ने 216.19 करोड़ रुपए की मंजूरी दे दी है. इस बात की जानकारी बिहार के पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने दी है. उन्होंने कहा है कि राज्य की सड़कों के चौड़ीकरण व मजबूतीकरण की दिशा में विभाग की जारी श्रृंखला के तहत राज्य के छह जिले में लगभग 80 किलोमीटर पथांश लम्बाई में सड़कों के जीर्णाेद्धार के लिए 216.19 करोड़ रुपए की मंजूरी दी गयी है. इसके अन्तर्गत सारण, सीवान, भभुआ, पूर्णिया, भागलपुर और पटना जिले में चयनित पथों का उद्धार होगा.

नन्द किशोर यादव ने आज कहा कि सारण जिले में बनवार चौक (गोविन्द चौक मोड़) से पहलेजा घाट पथ के लिए 06.70 करोड़, इसी जिले में मानपुर-गरखा पथ के लिए 29 करोड़, सीवान जिले में नरेन्द्रपुर-आन्दर पथ के लिए 16.02 करोड़, भभुआ जिले के जीटी रोड- 02 डिलीखिरी से घिनहुपट्टी नुआंव पथ के लिए 23.01 करोड़, इसी जिले के भभुआ-भगवानपुर मुख्य सड़क के राजपुर से ओरा-धरवार पथ के लिए 27.46 करोड़ दिए गए हैं.

वहीं पूर्णिया जिले के धमदाहा नेहरू चौक से बिहारीगंज बाडर पथ के लिए 79.06 करोड़, भागलपुर जिले में नवगछिया-कटोरिया के बीच आरओबी निर्माण के लिए डीपीआर गठन कार्य के लिए 15.14 लाख, इसी जिले में तिलकामांझी-चम्पानगर पथ में आरसीसी बाॅक्स कल्भर्ट निर्माण के लिए 47.86 लाख, पटना जिले के पभेड़ी मोड़-रेड बिगहा-बांस बिगहा पथ के लिए 30.49 करोड़, गायघाट (पटना) स्थित बिहार रोड रिसर्च इन्स्टीच्यूट में विद्युतिकरण सहित विविध कार्य के लिए 02.21 करोड और रोड सेफ्टी आडिट कार्य के लिए 01.21 करोड़़ रुपए की मंजूरी दी गयी है.

जीर्णोद्धार किए जाने वाली सड़कों की विस्तार से जानकारी देते हुए नंदकिशोर यादव ने बताया कि सारण जिले में गोविन्द चौक मोड़ से पहलेजा घाट के बीच तीन किलोमीटर, सारण जिले के मानपुर-गरखा के बीच 18.10 किमी, नरेन्द्रपुर से आन्दर के बीच 8 किमी, भभुआ जिले में डिलखिरी से नुआंव पथ के बीच 11 किमी, भभुआ-भगवानपुर मुख्य सड़क के राजपुर से ओरा-धरवार के बीच 10 किमी, पूर्णिया में धमदाहा नेहरू चैक से बिहारीगंज बाडर के बीच 20.25 किमी, पटना के पभेड़ी मोड़ से बांसबिगहा के बीच 9.75 किमी पथांश लम्बाई तक पथों के चौड़ीकरण व मजबूतीकरण का काम किया जाएगा. कुछ स्थानों पर मिट्टी कार्य, सुरक्षात्मक वर्क, ट्राफिक आइलैंड कार्य सहित विकास के अन्य कार्य किए जाने हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.