गुड न्यूज: 2-17 वर्ष के बच्चों का पटना एम्स में होगा वैक्सीन ट्रायल, शुक्रवार से रजिस्ट्रेशन

खबरें बिहार की

पटना:-कोरोना की दूसरी लहर के जारी कहर के बीच अब तीसरी लहर के आने को लेकर चर्चाएं तेज हो गयी है. इस बीच वैक्सीनेशन अभियान में तेजी लाए जाने की मांग भी जोर पकड़ रही है. इन सबके बीच, पटना एम्स से एक बड़ी खबर सामने आ रही है. दरअसल, बिहार की राजधानी पटना स्थित एम्स में पहली बार 2 से 17 वर्ष के बच्चों पर कोरोना वैक्सीन का ट्रायल शुरू होगा. इसके मद्देनजर पटना एम्स में वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुक्रवार से शुरू किया जा रहा है. आरंभिक जांच के बाद ही उन बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाया जायेगा.

इस उम्र के बच्चों को दिया जायेगा कोवैक्सीन

एम्स के कोविड 19 के नोडल पदाधिकारी डॉ. संजीव कुमार ने बताया कि वैक्सीनेशन के पहले 2-17 वर्ष के बच्चों का पहले तीन प्रकार का जांच किया जायेगा. इसमें सबसे पहले शिशु रोग विशेषज्ञों द्वारा सामान्य जांच की जायेगी. उसके बाद बच्चों का एंटीबॉडी लेबल की जांच होगी और आरटीपीसीआर जांच निगेटिव होने के बाद ही उनका टीकाकरण किया जायेगा. जिन बच्चों में तीनों जांच सही पाये जायेंगे, उनका ही टीकाकरण का ट्रायल किया जायेगा. उन्होंने बताया कि इस उम्र के बच्चों को कोवैक्सीन का डोज दिया जायेगा.

ट्रायल में शामिल बच्चों को दिया जाएगा प्रोत्साहन राशि व प्रमाणपत्र

बताया गया कि ट्रायल में शामिल बच्चों को सात रुपये प्रोत्साहन राशि व प्रमाणपत्र भी दिया जाएगा. गौर हो कि शुक्रवार को पूरे देश में बच्चों पर वैक्सीन का ट्रायल शुरू हो रहा है. देशभर में 525 बच्चों पर इसका ट्रायल होगा. इसमें एम्स पटना में 80 बच्चों पर ट्रायल होगा. ट्रायल में भाग लेने के इच्छुक लोग मोबाइल नंबर 9471408832 पर कॉल कर सकते हैं. उल्लेखनीय है कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि केंद्र सरकार द्वारा अब तक 45 साल से अधिक आयु के 14.85 करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन की डोज दी गई है. 18-44 साल के बीच के लोगों को अब तक 1.39 करोड़ डोज दी जा चुकी हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *