गर्भवती पत्नी को मरनासन्न हालत में छोड़कर पति फरार, ठंड में अकड़ा शरीर; घर से किसी ने नहीं ली सुध

खबरें बिहार की जानकारी

अरवल में रविवार को पति-पत्नी के रिश्ते के साथ-साथ मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। अग्नि के समक्ष सात फेरे लेकर साथ जीने मरने की कसमें खाने वाला एक पति अपनी गर्भवती पत्नी को अस्पताल परिसर में तड़पता छोड़कर फरार हो गया। वहां मौजूद लोगों ने नवविवाहिता को बेहोशी की हालत में सदर अस्पताल में भर्ती कराया, जहां वह जिंदगी और मौत से जूझ रही है। उसकी हालत चिंताजनक बनी हुई है।

महिला की पहचान शहर तेलपा ओपी क्षेत्र के रामपुर चाय गांव निवासी स्वर्गीय बबन साव की 24 वर्षीय पुत्री सरिता देवी के रूप में की गई है। आठ महीने पहले उसकी शादी औरंगाबाद जिले के हसपुरा थाना क्षेत्र के नरसन गांव में हुई है। डॉक्टरों ने बताया कि महिला गर्भवती है। बेहोशी की हालत में यहां लाया गया था। महिला को विशेष इलाज की जरूरत है, लेकिन इनके स्वजन नहीं पहुंचे हैं। इस कारण पटना रेफर करना मुश्किल है। सदर अस्पताल में ही महिला को जल्द से रिकवर कराने की कोशिश की जा रही है।

अस्पताल प्रबंधन लगातार महिला के ससुराल व मायके वालों से संपर्क करने की कोशिश में है। अस्पताल परिसर में मौजूद लोगों ने बताया कि कंपकपाती ठंड में महिला को बेहोशी की हालत में छोड़कर पति फरार हो गया। ठंड की वजह से महिला पूरी तरह अकड़ गई है। महिला की मां और पिता की मौत हो चुकी है। अब तक कोई परिजन अस्पताल नहीं पहुंच पाए हैं। महिला की जिंदगी सदर अस्पताल के स्वास्थ्य कर्मियों के भरोसे पर है। मायके से भी कोई अस्पताल नहीं पहुंचा है।

सदर अस्पताल के उपाधीक्षक डा. रमण आर्यभट्ट ने बताया कि महिला बेहोशी की हालत में है। मुंह से झाग निकल रहा है। अनुमान है कि महिला को मिर्गी का दौरा पड़ा है। आक्सीजन लगाकर पानी चढ़ाया जा रहा है। विशेष इलाज के लिए पीएमसीएच रेफर किया गया है, पर स्वजन के नहीं होने से वहां नहीं भेजा जा रहा। बगैर स्वजन के पीएमसीएच में मरीज की इंट्री नहीं होगी और ना ही इलाज शुरू होगा। यहां उपलब्ध संसाधनों में महिला की जान बचाने का प्रयास किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.