shivdeep lande birthday

IPS शिवदीप लांडे के घर कुछ इस तरह हुआ गणपति बप्पा का स्वागत….

राष्ट्रीय खबरें

महाराष्ट्र में गणेश चतुर्थी को पूरी श्रद्धा से मनाया जाता है और हर घर में पूरा जश्न का माहौल होता है। कल से हमारे यहां भी श्री गणेश जी आए हैं और मेरी बेटी आरहा इस वर्ष इसे पूरे जोश से उनके स्वागत में लगी है। गणेश चतुर्थी को कभी पूरी दुनिया में बहुत उत्साह के साथ मनाया जाता था।

इसकी शुरूआत बाल गंगाधर तिलक ने की थी। धीरे-धीरे इसकी परंपरा पूरे देश में फैल गई। बता दें कि आईपीएस शिवदीप बिहार के सबसे चर्चित आईपीएस थे। इन्होंने पटना में चल रहे कई सेक्स रैकेट का खुलासा किया था और कई लोगों को गिरफ्तार किया था। लड़कियों के शिकायत पर स्कूल-कॉलेज के पास चक्कर लगाने वाले आवारा लड़कों पर कार्रवाई करते थे।

पटना में एक बड़े स्टोर में छापेमारी कर नकली समान बेचने का खुलासा किया था। जब शिवदीप पटना आए थे तब शहर गुंडों से त्रस्त था। तमंचे वाले तो थे ही। शरीफ गुंडे भी थे। दवाई वाले। जो बंदूक नहीं रखते थे। पर दवाईयों का अकाल पड़ा देते थे शहर में। ब्लैक मार्केटिंग कर के। दारु की दुकानें जरूरत से ज्यादा खुल गई थीं।




बिना लाइसेंस के। दस महीनों में शिवदीप ने शहर को रास्ते पर ला दिया। और ये सब कुछ स्टाइल में होता था। ये नहीं कि पुलिस गई और गिरफ्तार कर के लाई। नये तरीके आजमाये जाते थे। कभी शिवदीप बहुरुपिया बन के जाते। कभी लुंगी-गमछा पहन के पहुंच जाते। कभी चलती मोटरसाइकिल से जंप मार देते।

कभी चलती मोटरसाइकिल के सामने खड़े हो जाते। पटना की लड़कियों में शिवदीप का क्रेज था। प्रेम था। शादी का ही मसला नहीं था। लड़कियां ऐसे भी प्रेम करती थीं। और जब लड़कियां ऐसे ही प्रेम करती हैं किसी से तो उस इंसान के बारे में आप अंदाजा लगा सकते हैं।








Leave a Reply

Your email address will not be published.