बिहार में बाढ़ का कहर शुरू : चंपारण में पानी से घिरे दर्जनों गांव, मधुबनी में NH-104 बंद

खबरें बिहार की

पटना: मानसून के साथ बिहार में बाढ़ का कहर शुरू हो गया है. नेपाल के जल ग्रहण वाले इलाकों में भारी बारिश के कारण वहां से निकलने वाली नदियां ऊफना गईं हैं. इससे चंपारण से कोसी तक कई इलाकों में बाढ़ का पानी चढ़ गया है. बारिश के कारण अन्‍य क्षेत्रों में जल-जमाव कर भी हालत बन गई है. पहाड़ी नदियों का पानी भी मैदानी इलाकों में भर चुका है. गंडक नदी का भी जलस्तर बढ़ गया है. रुक-रुक कर हो रही बारिश से भी जहां-तहां जलजमाव होने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

एनएच-104 बंद कर दिया गया

वहीं, मधुबनी जिले के लदनियां प्रखंड में भी बाढ़ का असर दिखने लगा है. एक ओर जहां धौरी नदी का पानी सड़क पर चढ़ने से डायवर्सन टूट गया, वहीं बारिश से सड़क का कटाव होने से एनएच-104 बंद कर दिया गया है. मधुबनी जिले के लदनियां थाना क्षेत्र के तेनुआही से जयनगर तक जानेवाली एनएच-227 पर योगिया और पद्मा गांव के बीच बाढ़ का पानी आने के कारण धौरी नदी पर तत्काल यातायात को लेकर बनाया गया डायवर्सन टूट गया है.

पश्चिम चंपारण के दर्जनों गांव घिर गये

जानकारी के मुताबिक, बाढ़ के पानी से पश्चिम चंपारण के दर्जनों गांव घिर गये हैं. नदियों के किनारे के बाशिंदे खौफजदा हैं. ओरिया पंडरी समेत सभी पहाड़ी नदियां उफान पर हैं. नदियों का पानी तेजी से गांव की ओर बढ़ रहा है. जिले के गौनाहा मैनाटांड सिकटा प्रखंड के दर्जनों गांव बाढ़ के पानी से गिर गये हैं. यहां के लोग बाढ़ के खतरे को लेकर खौफजदा हैं. लिहाजा लोग रतजगा करने लगे हैं. कई लोग अपना सामान सहेज कर पलायन की तैयारी करने लगे हैं.

एनडीआरएफ की टीम अलर्ट

इधर, संवेदनशील इलाकों में एनडीआरएफ की टीम तैनात कर दी गयी है. मालूम हो कि सोमवार को एनडीआरएफ की टीम ने रेस्क्यू कर पानी में डूब रहे तीन लोगों को बचाया था. बता दें कि पिछले साल जिले में प्रलयंकारी बाढ़ आयी थी, जिसमें करीब 40 लोगों की मौत हो गयी थी और करोड़ों रुपये का नुकसान हुआ था.

लोगों में काफी आक्रोश भी देखा जा रहा है. आक्रोशित लोगों का कहना है कि बरसात पूर्व ससमय यदि धौरी नदी पर पुल का निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया होता, तो शायद ऐसी स्थिति उत्पन्न नहीं होती. हर साल की तरह इस वर्ष भी लोगों को जान हथेली पर लेकर बह रही नदी के बीच से हो कर गुजरने को विवश होना पड़ रहा है. लदनिया में ही बारिश से सड़क कटाव भी शुरू हो गया है. सड़क का कटाव होने के बाद एनएच-104 को बंद कर दिया गया है. वहीं, झौहरी में पुल पर बाढ़ का पानी चढ़ने की सूचना है.

Source: Live Cities

Leave a Reply

Your email address will not be published.