flood bihar 2017

बिहार में flood से तबाही मचते ही प्रशासन सतर्क, सेना से संभाली कमान

कही-सुनी

बिहार के flood प्रभावित इलाकों में राहत एवं बचाव कार्य के लिये उड़ीसा के भुवनेश्वर से एनडीआरएफ की टीम देर शाम सेना के विशेष विमान से पूर्णिया के चूनापुर सैन्य हवाई अड्डे पर उतरी है आज से राहत और बचाव कार्य शुरू हो जाएगा। राज्य सरकार ने बाढ़ प्रभावित इलाके के लोगों से धैर्य रखने की अपील की है।

NDRF की इस टीम में 160 जवान शामिल हैं जो बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत एवं बचाव कार्य चलायेंगे। किसी भी विशेष परिस्थिति से निपटने के लिये सेना की एक टीम भी देर शाम पूर्णिया पहुंचने वाली है जो पूर्णिया में रहकर किशनगंज में उत्पन्न होने वाली विशेष परिस्थिति से निपटेगी।

वहीं, पूर्णिया के बाढ़ प्रभावित इलाकों में सोमवार से सूखा राशन राहत पैकेट का वितरण शुरू किया जायेगा। इसके लिये राज्य सरकार द्वारा हेलीकॉप्टर को पूर्णिया भेज दिया गया है। जिलाधिकारी प्रदीप कुमार झा ने बताया कि 50 हजार सूखा राशन पैकेट तैयार कर लिया गया है जिसको आज से हेलीकॉप्टर से प्रभावित इलाकों में गिराने का काम शुरू किया जायेगा।




उन्होंने बताया कि प्रभावित इलाकों में राहत कैम्प खोले गये हैं, वहां पीड़ितों के लिये भोजन एवं चिकित्सा की समुचित व्यवस्था की गयी है।

flood bihar 2017




Flood प्रभावित इलाके में फंसे लोगों को निकालने का काम एसडीआरएफ की टीमों द्वारा शुरू कर दिया गया है। एनडीआरएफ की टीम रविवार की रात से ही प्रभावित इलाकों में मोर्चा संभाल लिया है। वहीं, पूर्णिया पहुंचे राज्य सरकार के उद्योग विभाग के सचिव एस सिद्धार्थ ने भी प्रभावित क्षेत्रों में चलाये जा रहे राहत एवं बचाव कार्य के संबंध में जिलाधिकारी से जानकारी ली।

आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने कहा कि सबसे ज्यादा असर किशनगंज, पूर्णिया, अररिया, कटिहार के अलावे बेतिया व मोतिहारी में भी बाढ़ का असर है। NDRF की पांच टीम किशनगंज, दो पूर्णिया, एक अररिया में तैनात कर दी गई है। साथ इन सभी जगहों पर एसडीआरएफ की टीम भी भेजी जा रही है।














CM in Purnia




CM in Purnia




Ritu Jaiswal Sitamarhi flood




Ritu Jaiswal Sitamarhi flood



Leave a Reply

Your email address will not be published.