वैशाली, आरा और बेगूसराय के बाद सारण चौथा जिला है, जिससे पटना पुल के माध्यम से डायरेक्ट जुड़ा है। आरा कोइलवर पुल, बेगूसराय राजेंद्र पुल और उसके बाद वैशाली से पटना महात्मा गांधी सेतु के माध्यम से जुड़ा है।

चौथी दफा पटना सोनपुर दीघा सड़क पुल के माध्यम से सारण से भी जुड़ गया है। तेज रफ्तार के शौकीन लोगों के लिए बुरी खबर यह है कि यहां गति सीमा 40 किमी प्रति घंटे से ज्यादा नहीं होगी। सुरक्षा के लिए भी कई महत्वपूर्ण व्यवस्थाएं की जा रही हैं।

सोनपुर-दीघा सड़क पुल पर वाहनों की गति सीमा पर ब्रेक लगा दिया गया है। यहां 40 किमी प्रति घंटे की अधिकतम रफ्तार से वाहन चलेंगे। वहीं, अभी इस पुल पर केवल हल्के वाहन ही चलेंगे। उनमें कार, एंबुलेंस और बाइक्स होंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here