अब नहीं दबेगी सवर्णों की आवाज, रघुवंश बोले- सवर्णों के आरक्षण के समर्थन में है RJD

जानकारी

आर्थिक रूप से पिछड़े सवर्णों के आरक्षण देने का मुद्द अब जो़ड़ पकड़ रहा है। राजद ने भी आर्थिक रूप से पिछड़े सवर्णों को आरक्षण देने की बात कही है। राजद के वरिष्ठ नेता रखुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि आरजेडी सवर्णों को आरक्षण देने का विरोधी नहीं करती है। सरकार इस मामले में प्रस्ताव लाएगी तो हमारी पार्टी विचार करेगी। उन्होंने कहा कि जब रोजगार ही नहीं है तो आरक्षण का क्या झगड़ा। वे प्रदेश कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने पांच महीने के आंदोलनात्मक कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए कहा कि पार्टी जनवरी से जेल भरो अभियान शुरू करेगी। पार्टी की योजना पूरे राज्य में पांच लाख सत्याग्रही तैयार करने की है। हर पंचायत में 60 सत्याग्रही बनाए जाएंगे।

रोलोसपा और एलजेपी के महागठबंधन में शामिल होने के एक सवाल पर उन्होंने कहा कि रामविलास पासवान और उपेंद्र कुशवाहा महागठबंधन में शामिल जरूर होंगे। दोनों एनडीए में असहज महसूस कर रहे हैं। इसके लिए रास्ता तैयार किया जा रहा है। जीतन राम मांझी जैसे महागठबंधन में शामिल हो गए ठीक उसी तरह कुशवाहा और राम विलास पासवान भी हमारे साथ आएंगे।

उन्होंने बताया कि बूथ स्तर पर ग्रामीण संघर्ष समिति का गठन होगा, जो 11 सदस्यों की समिति होगी। अक्टूबर में सभी जिलों के प्रखंडों में धरना प्रदर्शन किया जाएगा। नवंबर में जिला स्तर पर धरना का आयोजन किया जाएगा, जिसमें पार्टी के प्रमुख नेता शामिल होंगे। दिसंबर में सत्याग्रहियों की नियुक्ति के बाद जेल भरो अभियान होगा। मौके पर तनवीर हसन, आलोक कुमार मेहता व पीके चौधरी भी थे।

आपको बता दें कि एससीएसटी एक्ट के वरोध में कई सवर्ण संगठनों ने भारत बंद बुलाया था। भारत बंद का असर बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश समेत कई राज्यों में देखने को मिला। इस बंद के बाद से ही आर्थिक रूप से पिछड़े सवर्णों को भी आरक्षण देने की मांग उठने लगी है। कई नेताओं ने तो इसका समर्थन किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *