इंजीनियर बनने का सपना देख रहे युवाओं के लिए एक और मौका, यहां पढ़ें- कब, क्या करना है

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के सरकारी व निजी इंजीनियरिंग कॉलेजों में बीटेक में खाली बची सीटों पर नामांकन के लिए मॉप अप काउंसिलिंग का आयोजन किया जायेगा। अभी सात हजार सीटें खाली हैं। इन सीटों को भरने के लिए फिर से मौका दिया गया है। राज्य में करीब 12 हजार सीटें है।

अब तक इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिला फॉर्म भरने से वंचित छात्र भी एडमिशन के लिए फ्रेश पंजीयन करवा सकते हैं। जेईई मेन 2022 में शामिल अभ्यर्थी एडमिशन के लिए इस राउंड में हिस्सा ले सकेंगे।

ऑफलाइन काउंसिलिंग दो नवंबर से

इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन के लिए दो राउंड की काउंसिलिंग 13 अक्टूबर तक हो चुकी है। दोनों राउंड में हुए एडमिशन के बाद जो सीटें खाली रह गई हैं। उन सीटों पर मॉप अप काउंसिलिंग के तहत एडमिशन लिया जायेगा। बिहार संयुक्त प्रवेश प्रतियोगिता परीक्षा पर्षद (बीसीईसीईबी) ने मॉप अप काउंसिलिंग के लिए शनिवार को शेड्यूल जारी कर दिया। पंजीयन 16 अक्टूबर से शुरू होगा। ऑफलाइन काउंसिलिंग दो नवंबर से शुरू होगी।

जेईई मेन का स्कोर कितना भी कर सकते हैं आवेदन 

बीसीईसीईबी ने कहा है कि जेईई मेन 2022 में शामिल सभी अभ्यर्थी जिन्होंने पहले ऑनलाइन आवेदन किया हो अथवा नहीं किया हो, वे फ्रेश रजिस्ट्रेशन एवं एप्लीकेशन फॉर्म भर सकते हैं।

जेईई मेन का स्कोर कितना भी हो, अभ्यर्थी मॉप अप काउंसिलिंग के लिए योग्य हैं। 12वीं में कम से कम 45 प्रतिशत तथा आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को कम से कम 40 प्रतिशत अंक होना अनिवार्य है।

16 से करा सकते हैं पंजीयन

छात्र 16 से 21 अक्टूबर रात 10 बजे तक पंजीयन करवा सकते हैं। फॉर्म में सुधार 22 अक्टूबर रात 1159 बजे तक कर सकते हैं। मेधा सूची का प्रकाशन 25 अक्टूबर को होगा। एडमिशन के लिए ऑफलाइन काउंसिलिंग दो नवंबर से शुरू हो जायेगी। वहीं एडमिशन ले चुके छात्र भी मॉप अप के लिए विलिंगनेश दे सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.