सगुना मोड़ से बिहटा एयरपोर्ट तक एलिवेटेड रोड बनेगा जल्द, बिहार को मिले पैकेज..

खबरें बिहार की

बिहार में एनडीए सरकार के अस्तित्व में आने के बाद प्रधानमंत्री पैकेज की सौगात बिहार को मिलनी आरंभ हो गई है। करोड़ की लागत से मोकामा में गंगा नदी पर बने राजेंद्र सेतु के समानांतर बनने वाले नए छह लेन पुल के लिए निर्माण कंपनी तय हो गई है।

पुल के लिए जमीन की भी व्यवस्था हो चुकी है। जल्द ही निर्माण कार्य आरंभ होगा। पुल मोकामा के समीप औंटा से शुरू होकर उत्तर में सिमरिया में निकलेगा। बैठक में पथ और पुल निर्माण से जुड़ीं कई अन्य महत्वपूर्ण परियोजनाओं पर भी निर्णय हुए।

गुरुवार को नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआइ) के अध्यक्ष दीपक कुमार ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की और उन्हें कई सड़क और पुल प्रोजेक्ट के बारे में जानकारी दी। मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि शिवाला-बिहटा रोड के बारह किमी हिस्से में जहां तक संभव हो एलिवेटेड सड़क का निर्माण कराया जाए।

इस एलिवेटेड सड़क से ही बिहटा में विकसित होने वाले एयरपोर्ट को कनेक्टिविटी दी जाए। इसके अतिरिक्त इस बात पर भी सहमति बनी कि मोकामा से मुंगेर तक जाने वाले एनएच को फोर लेन में विकसित किया जाएगा। रजौली-बख्तियारपुर सड़क की फोरलेनिंग भी एनएचएआइ द्वारा कराया जाएगा।

मुख्यमंत्री को एनएचएआइ की ओर से यह जानकारी दी गयी कि बक्सर में गंगा पर जो पुल है उसके समानांतर एक नए पुल के निर्माण की भी योजना है। मुख्यमंत्री ने परामर्श दिया कि पटना से बक्सर की सड़क फोर लेन तो बन ही रही है पर साथ में अगर बक्सर से बनारस तक की सड़क को फोर लेन कर दिया जाए तो लोगों को काफी सहूलियत होगी।

इसी क्रम में यह तय हुआ कि बख्तियारपुर के समीप गंगा पर बन रहे बख्तियारपुर-ताजपुर फोर लेन पुल के ताजपुर छोर से जो सड़क है उसकी फोरलेनिंग भी एनएचएआइ द्वारा करायी जाएगी। बैठक में यह भी तय हुआ कि बिहार में एनएच की 2500 किमी सड़क का रख रखाव तय मानकों के तहत एनएचएआइ द्वारा कराया जाएगा।

पटना-गया-डोभी फोर लेन सड़क के काम को तेज करने की भी हिदायत दी गयी। कई निर्माणाधीन परियोजनाओं के संबंध में एनएचएआइ द्वारा जमीन अधिग्रहण की समस्या का भी जिक्र किया गया।

मुख्यमंत्री ने बैठक में मौजूद राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के प्रधान सचिव को इस बारे में निर्देश दिए।बैठक में मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह, एनएचएआइ के सदस्य आरके पांडेय, पथ निर्माण विभाग के प्रधान सचिव अमृत लाल मीणा और एनएचएआइ के क्षेत्रीय अधिकारी बीके मिश्र भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.