दूल्हे राजा बैंड बाजा बाराती लेकर गए थे दुल्हन लाने, दहेज लौटाकर भागे खाली हाथ

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के पश्चिमी चंपारण बेतिया में में शादी करने गए दूल्हे को पहली शादी की बात छुपाना बहुत महंगा पड़ा। शिकारपुर थाना क्षेत्र के मढ़िया मलाही टोला गांव में लड़की पक्ष को बिना बताए बरात लेकर गए शादी शुदा दुल्हे व उसके बहनोई को ग्रामीणों ने बंधक बना लिया। घटना मंगलवार की रात्रि की है। दरअसल ,दिउलिया गांव के मिंटु चौधरी की शादी मढ़िया मलाही टोला गांव में तय हुई थी। बारात दिउलिया गांव से धुम धाम के साथ मढिया गांव पहुंची। वहां बरातियो का जम कर स्वागत भी किया गया।

पुराने सिंदुरदान से खुली पोल

कन्या निरीक्षण के दौरान पुराने सिंदुरदान को देख लड़की पक्ष के लोगों को शंका हुई। लड़की पक्ष की महिलाएं सिंदुरदान में ताग पात नही देख भड़क उठीं। बात बढ़ी और खुलासा हुआ कि लड़के की पहले भी शादी हो चुकी है और वह अपनी पहली पत्नी का ही सिंदुरदान लाया है। इस पर लड़की पक्ष के घरवालो समेत ग्रामीण भी भड़क उठे। हंगामा कर रहे ग्रामीणों ने दूल्हा समेत सभी बारातियों को बंधक बना लिया।  ग्रामीणों के बीच बचाव पर सभी बरातियों को वापस घर भेज दिया गया पर दूल्हे समेत उसके बहनोई राजु चौधरी  व कन्हैया चौधरी को बंधक बना लिया गया।

रात भर रहे बंधक, सुबह में पंचायत के बाद छूटे

रात भर तीनों एक कमरे में बंद रहे। बुधवार की सुबह सरपंच नथुनी मलिक ने दोनो पक्षो को बैठाकर पंचायती कराई। लेन देन के सामान वापस करने पर बांड पत्र बनवा कर सभी को मुक्त् कर दिया गया। लड़की के पिता ने बताया कि उसके साथ धोखाधड़ी की गयी है। दूल्हे की शादी की बात उससे छिपाई गयी है।

दूल्हे की मां ने बताया सच

उधर ,लड़के की मां गायत्री देवी ने बताया की  उसके पुत्र की छह माह पहले शादी हुई थी। उसकी पहली पत्नी उसके पुत्र को छोड़ कर जा चुकी है। पुराने सिंदुरदान व तागपात को देख लड़की पक्ष के लोगों ने शादी से इंकार कर दिया। थानाध्यक्ष अजय कुमार ने बताया कि घटना की जानकारी उन्हे नही है। दोनो पक्षों में से किसी भी पक्ष ने थाने में आवेदन नही दिया है। आवेदन मिलने पर अग्रेतर कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.