दुल्हन बोली, मैं ससुराल नहीं जाऊंगी; दूल्हे ने लगाई गुहार, कहा- मुझे मेरी बीवी दिलाओ… जानें पूरा मामला

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के नालंदा जिले में शादी की सारी रस्में हो जाने के बाद दुल्हन ने दूल्हे के साथ ससुराल जाने से इंकार कर दिया। दुल्हन का कहना है कि दूल्हा दिव्यांग है, इसलिए वो ससुराल नहीं जाएगी। वहीं दूल्हे ने थाने पहुंचकर न्याय की गुहार लगाई है। दूल्हे का कहना है कि शादी के बाद उसे दिव्यांग साबित किया गया है। गांव में बदनामी हो रही है। अब उसे अपनी दुल्हन को साथ ले जाना है।

जानकारी के अनुसार नूरसराय थाना क्षेत्र के रतनपुरा गांव के निवासी मनोज मांझी की बेटी शोषम कुमारी की शादी मुकेश कुमार के साथ बीते 8 जुलाई को हुई थी। लड़की का कहना है कि फेरे लेने के वक्त लड़का लड़खड़ा कर चल रहा था।  दिव्यांग होने के कारण लड़का पसंद नहीं है। लड़की ने बताया है कि उसने शादी के पहले लड़के को नहीं देखा था। पिता ने यह शादी तय की थी। उनके अलावा घर के किसी सदस्य ने लड़के को नहीं देखा।

शादी होने के बाद दूसरे घर में मौजूद देवी-देवताओं के पैर छूने गई तो लड़का पीछे-पीछे और वह आगे-आगे चल रही थी। सीढ़ी चढ़ने के दौरान लड़का लड़खड़ाने लगा, जिससे उसके दिव्यांग होने का पता चला। उसने जब दूल्हे के साथ जाने से इंकार कर दिया तो कुछ गांव वाले और बारात में आए लोग जबरदस्ती लड़की को बोलेरो में बैठाने लगे। किसी तरह वह गाड़ी से निकलकर घर आई और ससुराल जाने से इंकार कर दिया। लड़की का कहना है कि अब वह लड़के के साथ किसी भी कीमत पर रहना नहीं चाहती है।

लड़के ने इस संबंध में थाने पहुंचकर न्याय की गुहार लगाई है। लड़के का कहना है कि शादी के बाद जब बिना दुल्हन के वह अपने गांव पहुंचा तो उसकी काफी बदनामी होने लगी। इसलिए मुझे मेरी पत्नी किसी भी सूरत में चाहिए। इस मामले में नूरसराय थाना अध्यक्ष वीरेन्द्र चौधरी ने बताया की आवेदन प्राप्त हुआ है, पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.