new scam bihar

नीतीश के इस मास्टरस्ट्रोक के आगे चारो खाने चीत हुई राजद

राजनीति

पटना: चुनाव से पहले मास्टरस्ट्रोक खेलने में नीतीश कुमार आज नहीं पहले से ही माहिर है और इसका उन्हें हर चुनावों में फायदा भी मिलता रहा है. 2015 में शराबबंदी कर महिला वोटरों को आकर्षित किया. उससे पहले पंचायती सरकार में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण देकर और अब 2020 चुनाव से पहले लड़कियों को 10 से 25 हजार देने की घोषणा कर बड़ा मास्टरस्ट्रोक खेल दिया है. राजद भी इस फैसले पर किसी तरह से विरोध नहीं कर पाई.

क्यों कहा जा रहा है इसे मास्टरस्ट्रोक

हर घर में लड़कियों की सख्या है और अब ज्यादातर लड़कियां 10वीं, 12वीं और ग्रेजुएशन कर रही है. ऐसे में शादी से पहले पैसा मिलता है तो किसी न किसी रूप में लड़की को फायदा होगा. पैसे अकाउंट में आने से पूरा परिवार खुश होगा और नीतीश कुमार के प्रति सम्मान की भावना जागेगी. जन्म से लेकर ग्रेजुएशन तक जोड़ा जाए तो कुल 54 हजार रूपये मिलने है. पैसे लड़की के सीधे अकाउंट में आयेंगे तो इससे घरवालों को बहुत बल मिलेगा.

जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह का कहना है कि महिलाएं समाज की आधी आबादी हैं. विकास में आधी आवादी पीछे छूट जाए तो कैसे संपूर्ण समाज विकसित होगा. इसलिए महिलाओं पर विशेष ध्यान देना समय की मांग है.

नीतीश कुमार की छवि विकासपुरुष की रही है और हालिया दिनों में जो पार्टी इधर उधर गई है उससे उसके परंपरागत वोटर का नुकसान हुआ है. विपक्ष ने इस चीज़ को जमकर भुनाया है. नीतीश की छवि को विपक्ष ने कमजोर कर दिया है, यहीं कारन है कि उपचुनाव में जदयू जहानाबाद की सीट नहीं बचा सकी.

दलितों और मुसलमानों के बीच जो वोटबैंक था उसका बहुत बड़ा नुकसान जदयू को झेलना पड़ा है. शायद अब इन फैसलों से नीतीश कुमार कुछ भरपाई कर सकते है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.