dowry free wedding mokama bihar

बिहार में युवा कर रहे CM नीतीश के दहेजमुक्त समाज का सपना साकार, मोकामा के युवक ने पेश की मिसाल

खबरें बिहार की

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा दहेजप्रथा के विरोध में शुरू किए गए अभियान का एक सकारात्मक असर देखने को मिला है। गांधी जयंती के मौके पर दहेज और बाल विवाह के खिलाफ शुरू हुए अभियान के बाद मोकामा के एक युवक ने बिना दहेज शादी कर सीएम के अभियान को मजबूती प्रदान की।

शादी डॉट कॉम पर हुई जान-पहचान के बाद दोनों परिवारों ने दहेज मुक्त शादी का फैसला किया और चट मंगनी पट ब्याह कर लिया। पटना जिला के मोकामा थाना क्षेत्र के चिंतामणिचक निवासी अवनीश प्रसाद सिंह के बेटे अभिनव कुमार ने पटना निवासी मेघा कुमारी से बगैर एक रूपया भी दहेज लिए शादी की।

अभिनव कुमार फिलहाल एक बड़ी टेक्सटाइल कंपनी में फैशन डिजाइनर के पद पर कार्यरत हैं। अभिनव की हमसफर बनी मेघा बैंक ऑफ बड़ौदा में असिस्टेंट मैनेजर के पद पर कार्यरत है।

अभिनव कुमार और मेघा कुमारी ने गांधी जयंती के अवसर पर बगैर दहेज के विवाह कर न सिर्फ एक बड़ा संदेश दिया बल्कि नौजवानों के लिए एक मिसाल भी पेश की है।

dowry free wedding mokama bihar

अभिनव से शादी करने वाली मेघा के के पिता नंदकिशोर ठाकुर इस शादी पर फूले नहीं समा रहे हैं। मेघा के पिता कहते हैं कि आज के दौर में ऐसा दामाद और ऐसा परिवार पाकर वे खुद को धन्य महसूस कर रहे हैं।

मेघा के पिता बताते हैं कि लड़के वालों ने एक पैसे की भी मांग नही की और यदि बेटी को कुछ देना भी चाहा तो लड़के वालों ने लेने से साफ तौर पर इंकार कर दिया।

अभिनव की हमसफर बनी मेघा ने कहा कि अभिनव और उसके परिवार ने दहेज और कीमती सामानों को कोई तवज्जो न देकर एक लड़की को महत्व दिया है। बक़ौल मेघा वह चाहेगी कि हर लड़की को ऐसा ही पति मिले जो सिर्फ और सिर्फ लड़की को महत्व दे।
dowry free wedding mokama bihar

अभिनव ने बताया कि दहेज में उसका और उसके परिवार का विश्वास कभी नहीं था और जब राज्य के मुख्यमंत्री ही दहेज विरोधी अभियान चला रहे हों तो उनका भी दायित्व बनता है कि नीतीश जी के अभियान को आगे बढ़ाया जाए।

अभिनव ने अपने मम्मी पापा और परिवार के अन्य सदस्यों को दहेज मुक्त शादी के बारे में पहले ही बता दिया था और सबों ने शादी की रजामंदी दे दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.