डॉक्टरों की नीतीश सरकार से अपील, शराबबंदी के बाद अब सिगरेट बंद कराए

खबरें बिहार की

पटना :  बिहार में शराबबंदी के बाद हृदय की बीमारी में 20 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी है। लेकिन, अगर सरकार सिगरेट पर भी पाबंदी लगा दे, तो बीमारियों पर और अधिक लगाम लगेगा। ये बातें कॉर्डियोलॉजी सोसाइटी ऑफ इंडिया के अध्यक्ष डॉ बीपी सिंह ने कहीं।

29 सितंबर को विश्व हृदय रोग दिवस को लेकर गांधी मैदान स्थित एक होटल में कॉर्डियोलॉजी सोसाइटी ऑफ इंडिया की ओर से प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया। पीएमसीएच के हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ विरेंद्र सिन्हा ने कहा कि एक सिगरेट पीने से जीवन के सात से 11 मिनट कम होते हैं। धूम्रपान से दूर रहनेवाले लोगों में बीमारी फैलने का खतरा कम रहता है। ऐसे में सरकार को चाहिए की सख्ती से नियम लागू कर सिगरेट बंद करा दे। वहीं, डॉ निशांत त्रिपाठी ने कहा कि देश में हर पांचवां मरीज दिल की बीमारी से पीड़ित है। इसलिए जरूरी है कि जीवनशैली में बदलाव किया जाये।

जीवन और हृदय का सुरक्षित रखने के लिए धूम्रपान से परहेज करे। साथ ही तनाव से भी दूर रहे, इससे कई समस्याएं उत्पन्न होती हैं। नाश्ता और भोजन में नमक और वसा की मात्रा कम रखें, ताकि कोलस्ट्रोल न बढ़ सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.