DM mukesh pandey

बक्सर DM की बॉडी आज फ्लाइट से भेजी जाएगी गुवाहाटी, ससुर ने कहा- दो घर को कर दिया बर्बाद

कही-सुनी

DM मुकेश पांडेय की डेडबॉडी शनिवार को गाजियाबाद से गुवाहाटी के लिए भेजी जाएगी जहां उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। उधर, मुकेश के सुसाइड के बाद उनके ससुर ने कहा कि उन्होंने ऐसा कदम उठाकर अच्छा नहीं किया। अगर उन्हें कोई परेशानी थी तो वे इस बारे में मुझे बताते, मैं उनकी समस्या दूर करता।

बता दें कि DM मुकेश ने सुसाइड नोट में इसके पारिवारिक कारण बताए हैं। इस पहलू पर दिल्ली पुलिस के साथ ही गाजियाबाद पुलिस व रेल पुलिस भी जांच कर रही है। इस बीच शुक्रवार को गाजियाबाद में दो डॉक्टरों की टीम ने डेडबॉडी का पोस्टमार्टम किया। इसकी वीडियोग्राफी भी कराई गई।

मुकेश की फैमिली गुवाहाटी में ही रहती है। बड़े भाई व मास्को में भारत के राजनयिक राकेश पांडेय (IFS) भी शनिवार को पहुंचेंगे। मुकेश के ससुर ने कहा कि उनका दामाद कायर निकला। अच्छा नहीं किया। एक साथ दो परिवारों को बर्बाद कर दिया। एक अपने माता-पिता के साथ और दूसरा अपने परिवार के साथ अन्याय किया है।




उन्होंने कहा कि उनकी बेटी अपने पति के लिए माह में सात दिन व्रत रखती थी। मुकेश जी छुट्टी में जब भी पटना आते थे तो पति-पत्नी साथ चाणक्या होटल या रेस्टोंरेंट में खाना खाने जाते थे। डाकबंगला चौराहा के पास स्थित मारुति शोरूम वाउज के मालिक राकेश सिंह ने कहा कि रोज मुकेश जी रात में 10 से 11 के बीच फोन करके उनका हालचाल पूछते थे। पिछले चार वर्षों से रोज रात में फोन करते थे।

अगर संबंध खराब होता तो वे रोज फोन क्यों करते? पति-पत्नी के बीच संबंधों में खटास के बाबत पूछने पर राकेश ने इसे गलत बताया। कहा कि दोनों साथ रहते थे। दोनों के बीच बहुत प्रेम था। पत्नी के प्रेग्नेंट होने पर मुकेश जी ही साथ लेकर डॉ. शांति राय के यहां इलाज के लिए ले जाते थे। जाकर उनसे पूछ लीजिए। मुझे कभी इस बात का एहसास नहीं हुआ कि मुकेश जी ऐसा कर सकते हैं।




मैं भी पिता था। अगर कोई परेशानी थी तो मुझे बताते। उनकी समस्या को दूर कर देता। पर उन्होंने अच्छा नहीं किया। कायर निकले। घटना से पहले शाम में खुदकुशी का मैसेज मिला था। पता नहीं क्या हो गया था?

उस दिन उन पर (मुकेश) पर काल सवार था। इधर, शुक्रवार को सुबह से ही छज्जूबाग स्थित राकेश सिंह के अवकाश रेसीडेंशियल स्थित 402 नंबर फ्लैट में लोगों का आना जाना जारी रहा।




परिजन और रिलेटिव्स मायूस होकर लौट रहे थे। बाढ़ के भटगांव स्थित ससुराल में मातमी सन्नाटा पसर गया। मुकेश के सारण के दरियापुर प्रखंड के पैतृक गांव संझा में भी मायूसी छाई रही।

गुवाहाटी में DM मुकेश पांडेय की मौत की खबर मिलने के बाद डॉ. सिद्धेश्वर पांडेय की तबीयत बिगड़ गई है। हालात को देखते हुए देर रात उनके चाचा व चचेरे भाई दिल्ली शव लेने के लिए पहुंच गए थे। एम्स में शव पर विशेष लेप लगाने के बाद विमान से भेजने को लेकर तैयारी चल रही है।









DM mukesh pandey



Leave a Reply

Your email address will not be published.