दिवाली से पहले नीतीश पर फटा ‘सुधाकर बम’ : कहा- पीएम बनने के लिए हैं बेचैन, मंत्री को बना रखा है चपरासी

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ पूर्व कृषि मंत्री सुधाकर सिंह ने एक बार मोर्चा खोल दिया है। कैमूर में एक  कार्यक्रम में जनता को संबोधित करते हुए सुधाकर सिंह ने खुले मंच से नीतीश कुमार को तानाशाह बताया।  उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार जी की सरकार के मंत्री की हैसियत चपरासी की है।  वह सिर्फ मुहर लगा सकते हैं। इससे ज्यादा कुछ नहीं कर सकते। सुधाकर सिंह ने नीतीश कुमार के मिशन 2024 पर करारा प्रहार किया और कहा कि नीतीश कुमार पीएम बनने के लिए बेचैन हैं।

बिहार राज्य के प्रदेश अध्यक्ष कद्दावर जगदानंद सिंह के बेटे सुधाकर सिंह का

यह रवैया बिहार में चल रही महागठबंधन सरकार में अंदर का तापमान बढ़ाने वाला है।

कैमूर के चैनपुर में एक जनसभा में सुधाकर सिंह ने सीधे-सीधे नीतीश कुमार को टारगेट किया। उन्होंने दावा किया कि 17 सालों के कार्यकाल में नीतीश कुमार ने किसानों के लिए कुछ नहीं किया।  नीतीश पर कटाक्ष करते हुए कहा कि आजकल के मंत्री सिर्फ रबर स्टांप हैं। कागजों में भले ही मंत्री हो मगर उनकी हसीयत चपरासी की होती है। मंत्री को जो भी फाइल दी जाती है, उस पर दस्तखत कर देते हैं कि कहीं उनका मास्टर नाराज ना हो जाए।

खुले मंच से सुधाकर सिंह ने कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री बनने की बेचैनी है। सीएम नहीं बनने से उनकी आत्मा संतुष्ट रह जाएगी। नाम लिए बगैर सुधाकर सिंह ने कहा कि कुछ लोगों को लगता है कि स्वर्ग जाने का रास्ता प्रधानमंत्री पद से होकर ही जाता है। इसलिए प्रधानमंत्री बना दो ताकि स्वर्ग में भी जगह मिल जाए।

इससे पहले भी सुधाकर सिंह अपने बयानों की वजह से सुर्खियों में रहे।  उन्होंने कहा था कि विभाग के सभी पदाधिकारी चोर हैं और मंत्री होने के नाते वे खुद चोर के सरदार हैं।  सुधाकर सिंह ने नीतीश कुमार के कृषि रोडमैप पर भी सवाल उठाए थे और कहा कि किसानों के हित में कुछ नहीं हुआ। जदयू नेताओं द्वारा सवाल उठाए जाने के बावजूद सुधाकर सिंह अपने स्टैंड पर कायम रहे और उन्हें अपने पद से हाथ धोना पड़ा। एक बार फिर सुधाकर ने बिहार के सियासत को अपने बयानों से गर्म कर दिया है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.