डीजल अनुदान योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन आज से शुरू, नीतीश सरकार किसानों को दे रही प्रति एकड़ 600 रुपये

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार की नीतीश सरकार सूखे के हालात को देखते हुए किसानों को डीजल अनुदान देने जा रही है। इसके किसानों को डीजल से चलने वाले पंपसेट के जरिए अपनी फसलों की सिंचाई करने में सहूलियत होगी। डीजल अनुदान लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शनिवार से शुरू हो गई है। किसानों को 60 रुपये प्रति लीटर की दर से हर एकड़ 600 रुपये तक डीजल अनुदान देने का प्रवधान है।

कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह के मुताबिक किसानों को धान का बिचड़ा और जूट की दो बार सिंचाई के लिए अधिकतम 1200 रुपये प्रति एकड़ का अनुदान मिलेगा। खड़ी फसल में धान, मक्का, दलहनी, तेलहनी, मौसमी सब्जी, औषधीय और सुगंधित पौधों की 3 बार सिंचाई के लिए अधिकतम 1800 रुपये प्रति एकड़ अनुदान दिया जाएगा।

8 एकड़ तक की जमीन पर ले सकेंगे अनुदान

हर किसान अधिकतम 8 एकड़ की जमीन पर सिंचाई के लिए डीजल अनुदान ले सकेगा। पहले यह सीमा पांच एकड़ थी, मगर हाल ही में इसे बढ़ाकर 8 एकड़ किया गया है। कृषि मंत्री ने कहा कि इस मॉनसून सीजन सामान्य से कम बारिश होने के चलते कई जिलों में सूखे के हालात बने हुए हैं। खरीफ फसोलं को डीजल चलित पंपसेट से पटवन करने के लिए सरकार किसानों को सिंचाई के लिए डीजल अनुदान योजना के तहत सहायता दे रही है।

डीजल अनुदान लेने के लिए ऐसे करें आवेदन

जो किसान डीजल अनुदान योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, वे बिहार कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट https://dbtagriculture.bihar.gov.in/ पर जाएं। होम पेज पर डीजल अनुदान के विकल्प पर क्लिक करें। इसके बाद डीजल की रसीद, सिंचाई सत्यापन फॉर्म, नाम, बटाईदार, आधार नंबर, बैंक अकाउंट की जानकारी समेत अन्य जानकारी भरें और फिर सबमिट कर दें। आवेदन प्रक्रिया सुबह 9 से शाम 6 बजे तक चलेगी

Leave a Reply

Your email address will not be published.