भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और ले. कर्नल (मानद) महेंद्र सिंह धोनी शनिवार को जम्मू-कश्मीर में प्रादेशिक सेना की 15 दिनों की ट्रेनिंग करके दिल्ली लौट आए। धोनी 30 जुलाई को प्रादेशिक सेना की 106 टीए बटालियन के साथ जुड़े थे।

करीब दो सप्ताह तक उन्होंने बटालियन के साथ ट्रेनिंग में हिस्सा लिया। उन्हें कश्मीर घाटी के अलग-अलग क्षेत्रों में तैनात किया गया था। धोनी ने जवानों के साथ समय बिताया और पेट्रोलिंग भी की। वे उरी और अनंतनाग भी गए।

दरअसल, धोनी ने विश्व कप के बाद ही सेना की ट्रेनिंग करने की इच्छा जाहिर की थी। उन्होंने वेस्ट इंडीज दौरे के लिए खुद को अनुपलब्ध बताया था। इस दौरान धोनी लद्दाख में सेना के अस्पताल भी गए। वहां उन्होंने मरीजों और लोगों से मुलाकात की थी। स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर धोनी लद्दाख में ही थे।

सीएसके ने धोनी की फोटो शेयर की

5 अगस्त को भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और धारा 35-ए को हटा दिया था। इसके बाद जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश घोषित किया गया।

इस दौरान धोनी अपनी ट्रेनिंग में व्यस्त थे। 38 वर्षीय धोनी ने क्रिकेट से दो महीने के ब्रेक पर हैं। माही ने ट्रेनिंग के बीच समय निकालकर लेह में बच्चों के साथ क्रिकेट भी खेला। चेन्नई सुपरकिंग्स ने सोशल मीडिया पर इस मौके की एक फोटो भी फैंस के साथ साझा की।

Sources:-Dainik Bhasakar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here