देश-विदेशी पर्यटकों को भा रहा बिहार का राजगीर, बोधगया, नालंदा और पटना भी लाइन में

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार में पर्यटकों के बीच सबसे ज्यादा लोकप्रिय स्थल राजगीर बनकर उभरा है। कुल घूमने वाले पर्यटकों का बड़ा हिस्सा राजगीर घूमने वालों का है। दूसरे स्थान पर नालंदा तो तीसरे स्थान पर बोधगया है। वहीं पटना का स्थान चौथा है। दरअसल राज्य में आने वाले पर्यटकों पर कोरोना का प्रभाव धीरे-धीरे कम हो रहा है। लेकिन पिछले साल की तुलना में इस साल पर्यटकों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। अब तक 27 लाख 78 हजार से अधिक देशी-विदेशी पर्यटकों ने बिहार का भ्रमण किया है।

पर्यटन विभाग के अनुसार, जनवरी से जून 22 तक 27 लाख 70 हजार 446 भारत से तो 7590 विदेशी पर्यटकों ने बिहार के पर्यटन स्थलों का सैर की है। पर्यटकों के बीच सबसे लोकप्रिय राजगीर है। राजगीर में पांच लाख 92 हजार 528 देशी तो 1514 विदेशी पर्यटकों ने सैर किया है।

दूसरे पायदान पर नालंदा है जहां पांच लाख 29 हजार 838 देशी तो 849 विदेशी पर्यटकों ने सैर किया। तीसरे पायदान पर बोधगया है। बोधगया में दो लाख 88 हजार 158  देशी तो 2196 विदेशी पर्यटकों ने सैर किया। सबसे अधिक विदेशी बोधगया ही आए हैं। पटना चौथे पायदान पर है। पटना में सैर करने वाले देशी पर्यटकों की संख्या दो लाख 84 हजार 567 तो विदेशी पर्यटकों की संख्या 1681 है। गया में एक लाख 938 देशी तो 1275 विदेशी पर्यटकों ने सैर किया है।

पर्यटकों ने सबसे कम मुंगेर का भ्रमण किया। वहां मात्र 10 हजार 466 देशी पर्यटकों ने सैर किया। वैशाली में 27 हजार 258 देशी और 72 विदेशी पर्यटक आ चुके हैं। मुजफ्फरपुर में दो लाख 4743 देशी पर्यटक तो दो विदेशी पर्यटकों ने सैर किया। जबकि बांका में 15 हजार 63 देशी पर्यटकों ने सैर किया है।

विभागीय अधिकारियों के अनुसार कोरोना के कारण बीते वर्ष में श्रावणी मेला का आयोजन नहीं हो सका था। इस बार सुल्तानगंज से देवघर बाबाधाम लाखों की संख्या में श्रद्धालु जा रहे हैं। ऐसे में पर्यटकों की संख्या में वृद्धि होना तय है। इसके अलावा सब कुछ ठीक रहा तो इस बार सोनपुर मेला का भी आयोजन होगा। उसमें भी देश-विदेश के लाखों पर्यटक आया करते हैं। इस लिहाज से बिहार में पर्यटकों की आमद ठीक रहेगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.