देश के 129 शहरों में सबसे प्रदूषित शहर पटना, दूसरे स्थान पर मुंगेर, जानें बाकी शहरों का हाल

खबरें बिहार की जानकारी

तेज होते पछुआ के प्रवाह ने राज्य की हवा को भी प्रदूषित कर दिया है। रविवार को राजधानी पटना की हवा खराब श्रेणी में रही। वहीं, मुंगेर दूसरे स्थान पर रहा। इन शहरों का वायु गुणवत्ता सूचकांक ज्यादा हो गया है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण पर्षद की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार पटना शहर दिल्ली से भी ज्यादा प्रदूषित है। देश के 129 शहरों में पटना सबसे ज्यादा प्रदूषित रहा। पटना का सूचकांक 365 पाया गया है। दूसरे स्थान पर मुंगेर का 358 और तीसरे स्थान पर 342 वायु गुणवत्ता सूचकांक के साथ सिंगरौली रहा। दिल्ली का सूचकांक 261 रहा। बिहार के अन्य शहरों में मुजफ्फरपुर का 332, बिहारशरीफ का 309 और हाजीपुर का सूचकांक 290 रहा।

गांधी मैदान का वायु गुणवत्ता सूचकांक 500

राजधानी पटना के शहरी क्षेत्र में छह प्रमुख स्थलों में गांधी मैदान क्षेत्र का अधिकतम सूचकांक 500 हो गया है, जबकि अन्य क्षेत्रों में राजधानी वाटिका का 431, पटना सिटी का 358, एयरपोर्ट 243 है। इन सभी क्षेत्रों में पीएम 10 और पीएम 2.5 यानी मोटे और महीन धूलकण की मात्रा मानक से चार गुना अधिक पायी गयी है। रविवार को दिनभर जहां तेज गर्मी के साथ-साथ तेज हवाएं भी चलीं। इसके कारण शहर के वायु में धूलकण फैल चुका है। लोगों का घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है।

धूलकण ने खराब की हवा

शहर के वायु प्रदूषण का मुख्य कारण सड़कों पर धूलकण और नाला उड़ाही के बाद निकलने वाले गाद को सड़क के किनारे ही छोड़ दिया गया है। जब हवा तेज चली तो यह गंदगी परिवेशीय वायु में फैल गया, जिसके कारण वायु की गुणवत्ता खतरनाक स्तर के करीब पहुंच गई है।

वायु प्रदूषण बिहार में

शहर            वायु गुणवत्ता सूचकांक
पटना                364
मुंगेर                 358
मुजफ्फरपुर        332
बिहार शरीफ      309
हाजीपुर             290
समस्तीपुर          275
भागलपुर           272
दरभंगा             272
सहरसा            262
छपरा              255

देश में शहरों का सूचकांक

शहर            वायु गुणवत्ता सूचकांक
पटना             364
सिंगरौली        342
दुर्गापुर           320
भीवाड़ी          313
हापुड़            308
लखनऊ        285
ग्रेटर नोएडा    265
कानपुर         123
इंदौर            122

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.