जनसंख्या नियंत्रण पर बोले उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, बिहार में NDA मजबूत, जरूरत पड़ी तो कानून भी आएगा

खबरें बिहार की

Patna: हाल में ही उत्तर प्रदेश में जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू हुआ है उसके बाद बिहार के राजनीतिक पार्टियों ने अपना- अपना पक्ष रख रहे है। जनसंख्या नियंत्रण एक बड़ा मुद्दा है. जनसंख्या वृद्धि की रफ्तार तेज होगी तो उसका असर संसाधन पर पड़ता है और मानव जीवन को प्रभावित करता है. हम सभी चाहते हैं कि लोग इसे सामाजिक अभियान के रूप में स्वीकार करें. यह बातें बिहार के उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने कहीं.

वह बुधवार को एक दिवसीय दौरे पर कटिहार पहुंचे थे. यहां कई विभाग के अधिकारियों के साथ उन्होंने बैठक भी की. जनसंख्या नियंत्रण पर बिहार में हो रही बयानबाजी पर तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि अभी सरकार और समाज की अपेक्षा है, लोग जनसंख्या नियंत्रण में आवश्यक पहल करें लेकिन जरूरत पड़ी तो कानून भी लाया जाएगा. एक सवाल पर कि जेडीयू बिखर जाएगी? इसपर कहा कि बिहार में एनडीए मजबूत है.

हमारी सरकार पर कोई असर पड़ने नहीं जा रहा है. विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है. देश में कोरोना को लेकर जो परिस्थिति बनी, विपक्ष ने आलोचना के अलावा कोई भूमिका नहीं दिखाई. उन्हें बिहार में विकास से मतलब नहीं है. बता दें कि बिहार में जनसंख्या नियंत्रण पर नीतीश कुमार की ओर से दिए गए बयान के बाद हर दिन कोई ना कोई बयान सामने आ रहा है. विपक्ष के साथ-साथ बीजेपी के भी कई नेताओं ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के मॉडल को नकार दिया और अपने बयान से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का साथ दिया.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा था कि जनसंख्या नियंत्रण के लिए अगर सिर्फ कानून बनाकर उसका उपाय करेंगे तो यह संभव नहीं है. चीन का उदाहरण देते हुए कहा कि वहां भी एक से दो बच्चों को लेकर निर्णय लिया गया, अब देखिए वहां क्या हो रहा है. कहा कि सबसे बड़ी चीज है कि महिलाएं जब पूरी तौर पर शिक्षित और जागरूक होंगी तो अपने आप प्रजनन दर घट जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.