दिल्ली में इंजीनियर का अपहरण, पटना में तलाश, पता बताने वालों को 20 हजार का इनाम

खबरें बिहार की जानकारी

अपहृत सीपीडब्ल्यूडी के इंजीनियर की तलाश में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच पटना पहुंची और छानबीन की। सीपीडब्ल्यूडी के 57 वर्षीय इंजीनियर दीपक कुमार हल्दर के अपहरण का केस नई दिल्ली के नार्थ एवेन्यू थाने में दर्ज हुआ था। वे दिल्ली के ही एक अस्पताल में भर्ती थे और वहां से गायब हो गये थे। दिल्ली क्राइम ब्रांच की टीम ने पटना के कई थानों में उनकी तस्वीर व पूरी जानकारी लिखा पर्चा चिपकाया।

इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस के आधार पर पटना के कई इलाकों में छापेमाराी की गयी है। हालांकि इस दौरान अपहृत का कोई सुराग हाथ नहीं लग सका। दिल्ली में हुई इस घटना की विवेचना वहां की एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट कर रही है। दरअसल दीपक हल्दर मूल रूप से बंगाल के दक्षिण 24 परगना जिले के ब्रह्मपुर निवासी हैं।

दीपक दिल्ली के ही पहाड़गंज स्थित एक होटल में किराए पर कमरा लेकर रहते थे। इसी बीच करीब दो वर्ष पूर्व एकाएक उनकी तबीययत बिगड़ी व उन्हें दिल्ली के ही एक सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। बाद में उन्हें एम्बुलेंस से निजी अस्पताल ले जाया गया पर इंजीनियर रहस्मय तरीके से गायब हो गये। पटना पुलिस को दिये इश्तेहार की कॉपी में इंस्पेक्टर मनोज कुमार का नाम व मोबाइल नंबर है। उन्होंने बताया कि फिलहाल उनका तबादला क्राइम ब्रांच से दूसरी जगह हो गया है। इस मामले की छानबीन दूसरे अधिकारी कर रहे हैं।

दिल्ली पुलिस के इश्तेहार में यह लिखा है कि दीपक का पता बताने वाले को 20 हजार रुपये का ईनाम दिया जायेगा। उनके हुलिये के बारे में भी पूरी जानकारी दी गयी है। वे दिल्ली पुलिस ने जानकारी देने के लिये दो-तीन मोबाइल नंबर भी जारी किये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.