IPL 2018 में दिल्ली डेयरडेविल्स का सफर बेहद निराशाजनक रहा। फैंस इस सीजन अपनी पसंदीदा टीम से टूर्नामेंट जीतने की आस लगाए बैठे थे। मगर दिल्ली डेयरडेविल्स ने इस साल भी सभी को निराश किया।

14 मैच में 9 हार के साथ दिल्ली पॉइंट्स टेबल पर सबसे आखिरी पायदान पर रही। सीजन के खत्म होने के बाद दिल्ली एक बार फिर सुर्खियों में हैं, लेकिन कारण ऐसा है जिसकी किसी को उम्मीद नहीं थी।

दरअसल, पिछले शुक्रवार को चेन्नई सुपरकिंग्स से मुकाबले से पहले गुरुग्राम में एक पार्टी रखी गई थी। इस डिनर पार्टी में कथित तौर पर चीयरलीडर्स बुलाई गई थी।

इसे लेकर बीसीसीआई की भ्रष्टाचार विरोधी इकाई (ACU) ने दिल्ली फ्रेंचाइजी को चेतावनी दी है। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक ACU ने प्रेंचाइजी को बाहरी सूत्रों के संपर्क से DD के खिलाड़ियों को दूर रखने के निर्देश दिए हैं।

अधिकारियों ने बताया कि चीयरगर्ल्स को पार्टी में बुलाना बैन है क्योंकि एसीयू कोड के मुताबिक, किसी भी बाहरी व्यक्ति को खिलाड़ी के करीब आने की अनुमति नहीं दी जाती है। हालांकि दिल्ली डेयरडेविल्स टीम मैनेजमेंट ने इन आरोपों को सिरे से नकारा है।

टीम के एक सूत्र ने बताया कि डेयरडेविल्स किसी भी प्राइवेट इवेंट में चीयरलीडर्स को नहीं बुलाते हैं। यदि एसीयू को किसी बात की नाराजगी है तो उसे हमसे पहले बात करनी चाहिए।

इस मामले में कोई शिकायत तो दर्ज नहीं कराई गई है। मगर मौजूदा आईपीएल सीजन की समाप्ति के बाद फीडबैक रिपोर्ट तैयार की जाएगी, जिसमें एसीयू यूनिट के अधिकारी इस घटना को दर्ज कराएंगे।

एसीयू के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा, ‘इन चीयरगर्ल्स को बुलाया गया था। हालांकि क्रिकेटर्स इन गर्ल्स के साथ पार्टी नहीं कर रहे थे। ये गर्ल्स आईं, डिनर किया और फिर वहां से निकल गईं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here