दरभंगा में दिवाली की रात दबंगों का आतंक, कई घर फूंके; देखती रही पुलिस

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के दरभंगा के लहेरियासराय में दिवाली की रात दबंगों ने कुछ घरों में आग लगा दी। पीड़ितों ने आग लगाने से उन्हें रोका तो उनके साथ मारपीट की गई। एक महिला को बुरी तरह से पीट-पीटकर बेहोश कर दिया गया। पिछले महीने भी वर्चस्व को लेकर यहां दबंगों ने गोलीबारी की थी, जिसमें कई लोग घायल हुए थे। पीड़ितों का आरोप है कि आगजनी के वक्त पुलिस भी मौके पर मौजूद थी, लेकिन कुछ नहीं किया।

जानकारी के मुताबिक यह मामला बहादुरपुर थाने के अम्माडीह गांव का है। सोमवार रात जब स्थानीय लोग दीपावली का त्योहार मना रहे थे, तभी दबंगों ने वहां कुछ घरों में आग लगा दी। इससे मौके पर अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया। स्थानीय लोग उन्हें रोकने के लिए आए तो दबंगों ने उनकी पिटाई कर दी।

पुलिस पर मिलीभगत के आरोप

आगजनी के पीड़ितों ने पुलिस पर मिलीभगत के आरोप लगाए हैं। उनका कहना है कि बीते 5 सितंबर को भी वर्चस्व को लेकर यहां दबंगों ने गोलियां चलाई थी, जिसमें कई लोग घायल हुए थे। तभी से बहादुरपुर थाने की पुलिस वहां कैंप कर रही है। सोमवारह को पुलिस की मौजूदगी में ही आगजनी की गई। मगर पुलिसकर्मियों ने कुछ नहीं किया।

अग्निपीड़ितों में पलटा सहनी भी शामिल है, जिसे पांच सितंबर को गोली मारकर घायल कर दिया गया था। जब दबंग घरों में आग लगा रहे थे तो पलटा सहनी की पत्नी ने उन्हें रोका। इस पर दबंगों ने उसे मारपीट कर बेहोश कर दिया। फिर पलटा के बड़े भाई सूरज सहनी एवं उसके दो पुत्रों बालाराम सहनी एवं उपेंद्र सहनी को भी मारपीट कर घायल कर दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.