बिहार में मिले कोरोना के रिकॉर्ड 13089 नए मामले, राजधानी पटना में 2186 संक्रमितों की हुई पहचान

खबरें बिहार की

पटना: बिहार में एक दिन में 13,089 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान गुरुवार को की गई। राज्य में कोरोना की संक्रमण की दर 13.35 फीसदी रही, जबकि बुधवार को राज्य में 13,374 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान की गई थी और राज्य में संक्रमण की दर 12.87 फीसदी थी। पिछले 24 घंटे में राज्य में 285 कम नए संक्रमित मिले हैं, जबकि संक्रमण की दर में 0.48 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई। दरअसल, पिछले 24 घंटे में राज्य में 97, 972 सैम्पल की कोरोना जांच की गई।

राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने गुरुवार को ऑनलाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि कोरोना जांच में लगे स्वास्थ्यकर्मियों के संक्रमित होने के कारण जांच की संख्या कम हुई है। पटना में सर्वाधिक 2186 नए मरीज मिले। इसके अतिरिक्त गया में 1128, बेगूसराय में 666, मुजफ्फरपुर में 478, नालंदा में 509, पूर्णिया में 488 और पश्चिमी चंपारण में 590 नए संक्रमितों की पहचान की गई। 

जिलों में लगेंगी 100 ट्रू नेट मशीनें 
राज्य में कोरोना जांच की संख्या को बढ़ाने के लिए विभिन्न जिलों में एक सौ नई ट्रू नेट मशीन लगाई जाएंगी। इन मशीनों के लगाए जाने के बाद जांच की क्षमता सात हजार सैम्पल प्रतिदिन बढ़ जाएगी

वहीं राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक ने ऑनलाइन मीडिया से बातचीत में बताया कि 18 वर्ष से अधिक के व्यक्तियों का निबंधन जारी रहेगा किंतु टीकाकरण स्थल का चयन नही हो सकेगा। एक मई से टीकाकरण शुरू नहीं हो सकेगा। उन्होंने बताया कि आइजीआईएमएस, पटना को डेडिकेटेड कोविड अस्पताल बनाया गया है और सभी बेड का उपयोग कोरोना मरीजों के इलाज के लिए शुरू करने का निर्देश दिया गया है। कुमार ने बताया कि ऑक्सीजन की मांग का पुनः आकलन करने और संशोधित मांग पत्र तैयार करने का निर्देश सभी मेडिकल कॉलेज अस्पतालों को दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.