पानी में फंसे लोगों की मदद के लिए बढ़े हाथ, साधन नहीं मिले तो कंधे और गाेद में उठाकर निकाला

खबरें बिहार की

सोमवार की सुबह जब राजधानी के विभिन्न इलाकों में जलजमाव में कमी नहीं आई, तो मदद का जज्बा लिए कई लोग पानी में उतर आए। किसी ने राजेंद्रनगर, तो किसी ने कदमकुआं, लोहानीपुर और कंकड़बाग के इलाके में मोर्चा संभाल लिया। अधिकारियों व एनडीआरएफ की टीम के साथ कंधा से कंधा मिला कर आमलोग भी राहत और बचाव कार्य में जुटे रहे।

मदद करने वालों में राजनीतिक हस्तियों से लेकर समाजसेवी तक शामिल थे। पानी से निकालने का उपाय नहीं दिखा ताे कंधे और गाेद में उठाकर भी पार कराया। अधिवक्ता आशीष सिन्हा व राकेश चुन्नू ने कांग्रेस मैदान रोड में दूध और पानी के पैकेट बांटे, तो युवा नेता कृष्ण कुमार कल्लू ने कई राेगियाें और बुजुर्गों को पानी से बाहर निकाला। राजेंद्रनगर में व्यवसायी मनोज कुमार, नितिन और रजनधारी सिंह ने लोगों के घर दूध पहुंचाए। पटना विवि के छात्रों अली रजा हाशमी, राजीव, आसिफ, सोमू आनंद, तौसीफ आदि ने राजेंद्रनगर और कंकड़बाग में पीड़ितों के बीच खाद्य सामग्री और पानी की बोतल बांटी।


नाला रोड स्थित चूड़ी मार्केट के व्यवसायी संघ ने 20 हजार पैकेट राहत सामग्री बांटी। इसमें दूध, पानी, ब्रेड, बिस्कुट, मक्खन, माचिस, मोमबत्ती के साथ ही नमक का पैकेट था। संघ के अध्यक्ष सोहन लाल अग्रवाल, विराज सिंह, टिंकू अग्रवाल ने ट्रैक्टर-ट्राॅली पर राहत सामग्री रखकर सुबह सात बजे से सैदपुर, नाला रोड, राजेंद्रनगर, कंकड़बाग, लोहानीपुर सहित विभिन्न स्थानों राहत सामग्री बांटी। संघ के सदस्याें ने कई जगहों पर पानी में फंसे लोगों को निकाल कर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया।


एनसीसी की कम्युनिटी पुलिस द्वारा नाला रोड, स्टेडियम रोड, दिनकर गोलंबर के आसपास के लोगों तक राहत सामग्री बांटी गई। एनसीसी के एडीजी मेजर जनरल आरके गुप्ता के निर्देश पर एनसीसी कैडेट्स ने पानी में फंसे लोगों तक पानी, ब्रेड, दूध के साथ ही फल बांटा।

पटना जंक्शन से ट्रेनों का परिचालन अब सामान्य

पटना|पटना जंक्शन से ट्रेनाें का परिचालन सामान्य हाे गया है। पूर्व मध्य रेल के सीपीआरओ राजेश कुमार ने बताया कि 12369 हावड़ा-हरिद्वार एक्सप्रेस, 12336 लोकमान्य तिलक-भागलपुर एक्सप्रेस, 14004 नई दिल्ली-मालदा टाउन एक्सप्रेस, 13483 मालदा टाउन-दिल्ली फरक्का एक्सप्रेस, 14055 डिब्रूगढ़-दिल्ली ब्रह्मपुत्र मेल, 22948 भागलपुर-सूरत सुपरफास्ट एक्सप्रेस, 14056 दिल्ली-डिब्रूगढ़ ब्रह्मपुत्र मेल, 13484 दिल्ली-मालदा टाउन फरक्का एक्सप्रेस व 12368 आनंद विहार-भागलपुर विक्रमशिला एक्सप्रेस का परिचालन परिवर्तित मार्ग से किया जा रहा था। अब इन ट्रेनाें का परिचालन अपने निर्धारित मार्ग से हाेने लगा है।

हार्ट रोगियों का चार दिन बाद रेस्क्यू

पटना जंक्शन से ट्रेनाें का परिचालन सामान्य हाे गया है। पूर्व मध्य रेल के सीपीआरओ राजेश कुमार ने बताया कि 12369 हावड़ा-हरिद्वार एक्सप्रेस, 12336 लोकमान्य तिलक-भागलपुर एक्सप्रेस, 14004 नई दिल्ली-मालदा टाउन एक्सप्रेस, 13483 मालदा टाउन-दिल्ली फरक्का एक्सप्रेस, 14055 डिब्रूगढ़-दिल्ली ब्रह्मपुत्र मेल, 22948 भागलपुर-सूरत सुपरफास्ट एक्सप्रेस, 14056 दिल्ली-डिब्रूगढ़ ब्रह्मपुत्र मेल, 13484 दिल्ली-मालदा टाउन फरक्का एक्सप्रेस व 12368 आनंद विहार-भागलपुर विक्रमशिला एक्सप्रेस का परिचालन परिवर्तित मार्ग से किया जा रहा था। अब इन ट्रेनाें का परिचालन अपने निर्धारित मार्ग से हाेने लगा है।

आपदा से निपटने के लिए तैनात किए गए दो आईएएस समेत बिप्रसे के 22 अफसर

राज्य सरकार ने राहत एवं बचाव कार्य के लिए दो आईएएस अफसराें समेत बिहार प्रशासनिक सेवा के 22 पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की है। सामान्य प्रशासन विभाग के संयुक्त सचिव रामशंकर को कटिहार तथा शशांक शेखर सिन्हा, आशुतोष कुमार वर्मा, पंकज कुमार, मनोज कुमार झा, सुबोध कुमार, दिलीप कुमार अग्रवाल, सुधीर कुमार, अनुज कुमार, अरशद फिरोज, मो. तारिक और सुशांत कुमार को पटना समाहरणालय में प्रतिनियुक्ति किया गया है। इसके अलावा नजर हुसैन, हीरामुनि प्रभाकर, मनोज कुमार, चित्रगुप्त कुमार, अनिल कुमार, अजीत कुमार, राजेश कुमार, अशोक कुमार दो, अखिलेश कुमार और रेयाज अहमद को पटना नगर निगम में प्रतिनियुक्ति पर भेजा गया है।

Sources:-Dainik Bhasakar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *