CM नीतीश ने लगाई DGP की क्लास, कहा- आपके हर थाने में पैसे लेकर होती है पोस्टिंग

खबरें बिहार की

PATNA : बिहार में बढ़ते अपराध को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने डीजीपी की जमकर क्लास लगाई है। गुरुवार को मुख्यमंत्री सचिवालय में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान सीएम ने पुलिस अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकारी सिर्फ पैसे कमाने में लगे रहते हैं।

हाल के दिनों में बिहार में आपराधिक घटनाओं में जबरदस्त इजाफा हुआ है। बढ़ते आपराधिक घटनाओं को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अधिकारियों की उच्चस्तरीय बैठक बुलाई। जिसमें डीजीपी के अलावा आईजी स्तर के अधिकारियों को बुलाया गया था। सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पुलिस पदाधिकारियों के रवैया से खास नाराज थे। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों की जमकर क्लास लगाई और डीजीपी को भी जमकर लताड़ लगाई।

हाईकोर्ट

पुलिस सूत्रों की माने तो सीएम ने डीजीपी से साफ तौर पर कहा कि डीजीपी साहब बुरा मत मानिएगा, जहां तक मेरी जानकारी है, आपके एसपी थानेदार की पोस्टिंग पैसे लेकर करते हैं। अपराध नियंत्रण को लेकर भी मुख्यमंत्री काफी नाराज थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिलाधिकारी को इतने सारे काम रहते हैं तब भी वह सही परफॉर्म करते हैं। पर पुलिस पदाधिकारियों को सिर्फ अपराध नियंत्रण का काम रहता है और उसे भी वह ठीक तरीके से नहीं कर पाते।

मुख्यमंत्री ने कहा कि SP तेज तर्रार अधिकारियों की पोस्टिंग थाने में नहीं करते लेकिन जो उन्हें खुश रख सकता है और काम अच्छा नहीं भी करता है तो उनकी पोस्टिंग थाने में कर दी जाती है।

नीतीश ने डीजीपी से कहा कि आपलोग अधिकारियों की एसीआर रिपोर्ट कैसे लिखते हैं जो काम नहीं करता है उसे भी आप लोग 10 नंबर दे देते हैं और जो काम करता है उसे भी दस ही नंबर दिया जाता है, नंबर देने का आखिर पैमाना क्या है।

पुलिस सूत्र बताते हैं कि मीटिंग के दौरान आईजी स्तर के अधिकारी पारसनाथ ने मुख्यमंत्री को यह सुझाव दिया कि लॉ एंड आर्डर कंट्रोल करने में परेशानी इसलिए भी होती है कि कई अनुमंडल का इलाका बड़ा है और वैसे अनुमंडल को दो भाग में बांटकर DSP के पद को सृजित करने की आवश्यकता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह आपकी निजी राय हो सकती है यह कोई समस्या का समाधान नहीं है। आखिर इस आधार पर कितने अनुमंडल बनाए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने पुलिस महानिदेशक को आदेश दिया के एडीजी मुख्यालय कोई स्पीडी ट्रायल के काम में लगाएं और उसे दुरस्त करने की जरूरत है।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.