सीएम नीतीश की अधिकारियों को हिदायत, सही कीमत पर किसानों को मिले खाद, रखें नजर

खबरें बिहार की

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि अभी कई फसलों की बुआई का मौसम चल रहा है। किसानों को खाद की किल्लत नहीं हो, इसको लेकर सरकार हर स्तर पर काम कर रही है। केंद्र सरकार से इस मसले पर बात की गई है। अधिकारी भी निरंतर केंद्र सरकार के संपर्क में हैं, ताकि खाद की आपूर्ति में किसी प्रकार की कोई बाधा उत्पन्न नहीं हो। उन्होंने कहा कि सही मूल्य पर उर्वरक की बिक्री हो, इसके वितरण में भी किसी प्रकार की कोई अनियमितता न हो, इस पर विशेष नजर रखें।

एक अणे मार्ग के संकल्प में कृषि विभाग के साथ उर्वरक की उपलब्धता पर समीक्षा बैठक में सीएम ने कहा कि किसानों के हित के लिए हमलोग लगातार काम कर रहे हैं। फसलों का उत्पादन और उत्पादकता बढ़ी है। किसानों की आमदनी बढ़े, उन्हें हर प्रकार से फायदा हो, सरकार इस दिशा में लगातार प्रयासरत है।

 

बैठक में कृषि सचिव एन सरवन कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा केंद्र सरकार से खाद आपूर्ति को लेकर बातचीत किए जाने का काफी असर हुआ है। इस कारण खाद की आपूर्ति बढ़ायी गई है। केंद्र सरकार ने आश्वस्त किया है कि बिहार को खाद आपूर्ति लगातार जारी रहेगी और आपूर्ति में किसी प्रकार की परेशानी नहीं होगी। इसके लिए हमलोग भी लगातार केन्द्र सरकार से सम्पर्क में हैं। 

 

बैठक में कृषि सचिव ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से उर्वरक की आवश्यकता, आवंटन, आपूर्ति एवं उपलब्धता को लेकर विस्तृत जानकारी दी। रबी 2021-22 में उर्वरकों (यूरिया, डीएपी, एनपीके, एमओपी) की आवश्यकता एवं आवंटन, रबी 2021-22 का रबी 2020-21 से उर्वरकों की तुलनात्मक स्थिति तथा रबी 2021-22 (अक्टूबर 2021 से 08 दिसंबर 2021 तक) में उर्वरकों की कुल उपलब्धता के संबंध में बताया। 

कृषि सचिव ने कहा कि डीएपी के विकल्प के रूप में एनपीके उर्वरक का उपयोग या एसएसपी और यूरिया के मिक्सचर के रूप में उपयोग तथा उर्वरक के सही मूल्य आदि को लेकर समाचार पत्रों में विज्ञापन दिये जा रहे हैं। बैठक में कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार व चंचल कुमार, मुख्यमंत्री के सचिव अनुपम कुमार, सीएम के ओएसडी गोपाल सिंह, कृषि निदेशक राजीव रौशन उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.