CM in Purnia

अभी-अभी : CM नितीश बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लेने Purnia रवाना, कहा- किसी भी परिस्थिति को निपटने के लिए हम तैयार हैं

खबरें बिहार की

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई दौरा कर राहत और बचाव की जानकारी लेने के लिए प्रस्थान कर चुके हैं। सबसे पहले वे पूर्णिया का दौरा करने वाले हैं। सीएम सुबह 11 बजे हवाई सर्वेक्षण के लिए निकले हैं। सबसे पहले Purnia, फिर अररिया, किशनगंज, कटिहार के लिए रवाना होंगे।

नेपाल की तराई और सीमाचंल में पिछले 72 घंटे में हुई भारी बारिश के कारण गंगा, कोसी और महानंदा उफान पर हैं। इससे किशनगंज, कटिहार, Purnia , और अररिया में बाढ़ की स्थिति गंभीर हो गई है। लगातार बारिश से बिहार में बाढ़ भयंकर हो रही और करोड़ों की आबादी बुरी तरह घिर गई है।

सीमांचल, कोसी और उत्तर बिहार के जिलों में स्थिति भयावह हो गई हैं। नदियां उफना रहीं, कई तटबंध टूट गए हैं। राहत और बचाव के लिए सरकार ने एनडीआरएप और एसडीआरएफ के साथ सेना को भी प्रभावित इलाको में उतारा है।




बाढ़ की भयावहता की सूचना मिलते ही सीएम नीतीश कुमार ने स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और रक्षा मंत्री को पूरी स्थिति की जानकारी दी तथा राहत और बचाव कार्य में मदद का अनुरोध किया।केंद्र से सीएम को हसभंव सहायता का भरोसा मिला है।

CM in Purnia




इधर, समीक्षा बैठक के बाद मुख्यमंत्री ने सभी प्रभावित जिलों के प्रभारी प्रधान सचिवों को तत्काल अपने अपने जिलों में कैंप कर राहत और बचाव कार्यों की मॉनिटरिंग का आदेश दिया।

बता दें कि उत्तर बिहार और सीमांचल के कई जिले बाढ़ की चपेट में हैं। बाढ़ के कारण करीब 9 लोगों की मौत हो चुकी है। डगरूआ प्रखंड के निखरेल का आमना बांध, गौरा में चांदपुर, अमौर में सोनापुर का मनवारे बांध के टूटने का खतरा बना हुआ है।




बिहार में आयी बाढ़ की समीक्षा खुद सीएम नीतीश कुमार कर रहे हैं। रविवार को जैसे-जैसे बाढ़ का कहर बढ़ता गया सीएम लगातार अपने अधिकारियों के साथ अपडेट लेते रहे।

सीमांचल के इलाकों में उत्पन्न बाढ की स्थिति के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह और केन्द्रीय गृह सचिव से फोन पर बात की और बाढ की स्थिति से अवगत कराया। इस दौरान सीएम ने हर संभव सहायता उपलब्ध कराने की मांग की।




सीएम ने एनडीआरएफ की 10 अतिरिक्त टुकड़ियों को बिहार भेजने की मांग की ताकि समय रहते लोगों का रेस्क्यू किया जा सके। प्रधानमंत्री और गृह मंत्री ने सीएम को हर संभव मदद का भरोसा दिलाया।




मुख्यमंत्री खुद लगातार बाढ की स्थित पर नजर रख रहे हैं और उन्होंने अधिकारियों को युद्धस्तर पर राहत एवं बचाव कार्य चलाने का निर्देश दे रहे हैं। सीएम ने बाढ़ प्रभावित जिलों के जनप्रतिनिधियों से भी बात कर स्थिति की जानकारी ली।

उन्होंने आपदा प्रबंधन विभाग के मुख्य सचिव और प्रधान सचिव को सेना से सहायता प्राप्त करने का भी निर्देश दिया। राज्य में प्रतिनियुक्त एनडीआरएफ के अतिरिक्त बल को प्रभावित इलाकों में पहुंचने का निर्देश जारी किया गया है।




गौरतलब है कि नेपाल के जलग्रहण क्षेत्रों और बिहार के सीमांचल के जिले Purnia ,कटिहार, अररिया और किशनगंज में पिछले 24 घंटे से हो रही भारी बारिश के कारण बाझ की स्थिति उत्पन्न हो गयी है।

CM in Purnia









CM in Purnia



Leave a Reply

Your email address will not be published.