चोरों ने असम-बरौनी पाइपलाइन काटा: बाल्टी-गैलन में भर-भरकर कच्चा तेल ले गए ग्रामीण, हजारों लीटर खेत में बहा

खबरें बिहार की जानकारी

चौथम थाना क्षेत्र के फर्रेह बहियार होकर गुजरी असम-बरौनी पाइप लाइन को काटकर अज्ञात चोरों ने हजारों लीटर क्रूड आयल की चोरी कर ली। घटना सोमवार देर रात की बताई जा रही है। उक्त बात की जानकारी भू-स्वामी गोपाल राय को सुबह छह बजे तब मिली, जब लोगों ने कहा कि आपके मक्का के खेत में तेल बह रहा है। गोपाल राय ने इसकी सूचना इंडियन आयल कंपनी को दी। तब तक कंपनी के चौकीदार शिवनंदन कुमार घटना स्थल पर पहुंच चुके थे। स्थानीय लोगों ने बताया कि सोमवार की देर रात दो टैंकर उक्त बहियार से होकर गुजरा है।

तेल कंपनी का कर्मी बताकर चोरों ने की खुदाई

सूत्रों की मानें तो बीते तीन दिनों से कुछ लोग उक्त स्थल पर अपने को आइओसी का कर्मी बताते हुए खुदाई कर रहे थे। आइओसी के चौकीदार शिवनंदन कुमार ने बताया कि प्वाइंट 78 से 98 तक उनकी ड्यूटी है। इधर, यह बात जंगल की आग की तरह फैल गई और कई लोग वहां पहुंच कर गैलन, बाल्टी, बोतल में तेल भर-भरकर घरों को ले जाने लगे। सूचना पर आयल कंपनी के कई वरीय पदाधिकारी फर्रेह पहुंचे। इससे पूर्व चौथम, बेलदौर, महेशखूंट व पौरा ओपी की पुलिस भी वहां पहुंच चुकी थी। पुलिस ने वहां से लोगों को हटाया।

रिसाव बंद करने में जुटी कंपनी

वहीं,  सूचना पर आयल कंपनी के एसई हिमांशु सिंह, एचआर रविभूषण कुमार, सुरक्षा अधिकारी मधुसूदन कुमार, चीफ मैनेजर (लैंड पाइप लाइन) केएस दास आदि फर्रेह पहुंचे। रिसाव स्थल का जायजा लिया। एसई हिमांशु सिंह ने बताया कि पाइप लाइन में छेद कर क्रूड आयल की चोरी की गई है। हजारों लीटर क्रूड आयल बर्बाद हुए हैं। रिसाव स्थल का बैरिकेडिंग कर रिसाव को बंद किया जा रहा है। रिसाव बंद करने में कुछ घंटे लगेंगे। सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए जा रहे हैं।

चोरी मामले को लेकर जांच में जुटी तेल कंपनी

एचआर रविभूषण कुमार ने बताया कि 60-70 वर्ष पूर्व डिब्रूगढ़ से बरौनी तक 11 सौ किलोमीटर की लंबाई में तेल पाइपलाइन बिछाई गई है। तेल पाइपलाइन में सेंध लगाकर चोरों ने घटना को अंजाम दिया है। इसको लेकर कंपनी के अधिकारी द्वारा जांच की जा रही है। थाना में मामला दर्ज कराया जाएगा। वहीं, चौथम के प्रभारी थानाध्यक्ष अभय तिवारी ने बताया कि अभी आयल कंपनी की ओर से आवेदन नहीं दिया गया है। आवेदन मिलने पर मामला दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.