कोलेस्ट्रॉल से पाचन तक में फायदेमंद है अलसी, इससे बनाएं टेस्टी चटनी

खबरें बिहार की जानकारी

अलसी विटामिन, ओमेगा-3 फैटी एसिड और फाइबर से भरपूर होती है। इसके अलावा इसमें एस्ट्रोजन और एंटीऑक्सीडेंट दोनों गुण होते हैं। ऐसे में यह कई बीमारियों से छुटकारा दिलाने में मददगार है। दादी-नानी अक्सर इसे खाने की सलाह देती हैं, लेकिन नई पीढ़ी इन सभी चीजों को देखकर नाक सिकोड़ती है। अगर वह लोग इन चीजों को खाते भी हैं तो स्वाद देखकर। ऐसे में आप अगर अलसी को बच्चों की डायट में शामिल करना चाहते हैं तो उनके लिए टेस्टी चटनी बना सकते हैं।

अलसी की चटनी से मिलेंगे ये फायदे

अगर आप डायट में अलसी की चटनी को शामिल करते हैं तो ये आपके कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम, पाचन में सुधार, दिल की सेहत के अलावा भी ये फायदेमंद साबित हो सकती है।

 

कैसे बनाएं अलसी की चटनी
सामग्री

– अलसी के बीज
– कद्दूकस किया हुआ नारियल
– चना दाल
– उड़द दाल


– इमली
– नमक
– साबुत सूखी लाल मिर्च
– करी पत्ता
– जीरा
– तिल का तेल

यूं बनाएं…

– इसे बनाने के लिए अलसी के बीज, चना दाल और उड़द दाल को ड्राई रोस्ट करें और फिर एक प्लेट में निकालकर ठंडा होने के लिए छोड़ दें।

– अब एक पैन में तेल डालें और उसमें साबुत लाल मिर्च, करी पत्ता, जीरा, नारियल और इमली का टुकड़ा डालें। कुछ देर इनको भी रोस्ट करें।

जब दोनों चीजें तैयार हो जाएं तो दोनों तो मिक्स करें और फिर ब्लेंडर में नमक डालें। इसका पाउडर बनाना है।

– जब भी चटनी खानी हो, पाउडर लें और इसमें थोड़ा पानी मिलाएं। चटनी तैयार है।

– बचे हुए चटनी के पाउडर को एअर टाइट कन्टेनर में भर कर रखें। यह कमरे के तापमान पर 10-15 दिनों तक फ्रेश रहता है। इसकी शेल्फ लाइफ बढ़ानी है तो आप इसे फ्रिज में स्टोर कर सकते हैं, फ्रिज में ये लगभग 1 महीने तक सही बना रहेगा। यह भी पढ़ें:

Leave a Reply

Your email address will not be published.