सीट शेयरिंग पर बोले CM नीतीश- ठहरिये भाई! मिल-बैठकर बना लेंगे बात

राजनीति

पटना: बिहार एनडीए में 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए सीटों की बंटवारे पर अगस्त तक निर्णय आ सकता है। बीजेपी और सहयोगी दल कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। यह लगभग तय कर लिया गया है। सोमवार को लोकसंवाद कार्यक्रम के बाद सीएम नीतीश कुमार ने इसके संकेत दिए हैं।

नीतीश कुमार ने स्पष्ट तौर पर कहा है 1 महीने में मामले को अंतिम रूप दे दिया जाएगा। सीएम ने इस बात पर जोर देते हुए कहा कि सीट शेयरिंग को लेकर कोई विवाद नहीं है। हम लोग एक साथ काम कर रहे हैं। आम सहमति पर ही निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि बीजेपी की ओर से सीट शेयरिंग को लेकर प्रस्ताव आएगा और उसके बाद उसे अंतिम रूप दिया जा सकेगा।

गौरतलब है कि राज्य के 40 सीटों की बंटवारे को लेकर पिछले कई दिनों से कयास लगाए जा रहे थे। जदयू 25 सीटों पर चुनाव लड़ने की बात कह रही थी। वहीं, लोजपा और रालोसपा अपनी जीती हुई सीटों पर दावा पेश कर चुके हैं। इससे बीजेपी की परेशानी बढ़ गई थी।

BJP सहयोगियों का सम्मान करना जानती है
हालांकि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बिहार दौरे के बाद से सीटों की बंटवारे को लेकर चल रहा विवाद कम हो गया है। शाह ने अपने पटना दौरे पर कहा था कि जदयू के साथ आने से एनडीए बिहार की सभी 40 सीटों पर जीत दर्ज करेगी। बीजेपी अपने सहयोगी दलों को संभालना और उन्हें सम्मान देना जानती है।

जदयू को 2009 में 20 सीटों पर मिली थी जीत
बता दें कि 2014 के चुनाव में जदयू एनडीए का हिस्सा नहीं था और उसे सिर्फ 2 सीटों पर जीत निली थी। वहीं, एनडीए ने 40 में से 31 सीटों पर जीत हासिल की थी। बीजेपी को 22, लोजपा को 6 और रालोसपा को 3 सीटों पर जीत मिली थी। वहीं, 2009 के लोकसभा चुनाव में जदयू 25 सीटों और बीजेपी 15 सीटों पर चुनाव लड़ी थी। इसमें जदयू को 20 और बीजेपी को 12 सीटों पर जीत मिली थी।

Source: Etv Bihar

Leave a Reply

Your email address will not be published.