छत से छलांग लगाकर हनुमान नहीं बनना है, संयम से लड़ाई लड़ना है: तेज प्रताप यादव का RJD को संदेश ?

खबरें बिहार की राजनीति

अपने बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाले राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और नीतीश सरकार में मंत्री तेज प्रताप यादव ने अब अपनी ही पार्टी को नसीहत दे डाली है। कुछ दिन पहले ही पार्टी के नेता श्याम रजक के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले तेज प्रताप यादव ने युवाओं को संयमित होने का भी संदेश दिया।

जहानाबाद में बुधवार की रात एक श्राद्ध कार्यक्रम में पहुंचे तेज प्रताप यादव ने कहा कि आप संयम हो जाइए। अपनी लड़ाई को अपने बुजुर्गों के आशीर्वाद से लड़िए। आजकल थोड़ी सी डांट-फटकार पर नौजवान फांसी लगा रहे हैं। छत से कूद जाएंगे, छलांग लगा लेंगे। छलांग लगाने से कोई हनुमानजी नहीं हो जाइएगा। तेज प्रताप ने कहा कि अपने अंदर संयम रखते हुए अपनी लड़ाई लड़नी है।

बता दें कि तेज प्रताप यादव ने राजद महासचिव श्याम रजक पर गाली-गलौज करने का आरोप लगाया था। यह आरोप लगाते हुए वह पहले दिन के अधिवेशन को बीच में छोड़कर निकल गए थे। बाहर आकर उन्‍होंने श्‍याम रजक पर गंभीर आरोप लगाए थे। उन्‍होंने दावा किया था कि उनके पास इस गाली गालौज का ऑडियो भी है। वहां से निकल कर उन्‍होंने ने उस ऑडियो को मीडिया में शेयर भी कर दिया।

इसके बाद राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव और बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव से श्याम रजक ने मुलाकात की थी। मुलाकात के बाद तेजस्वी ने कहा था कि श्याम रजक और तेजप्रताप यादव के बीच जो हुआ वो एक गलतफहमी का हिस्सा था, उसे दूर कर लिया गया है।

 

गौरतलब है कि राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने अपने छोटे बेटे व राज्य के डिप्टी सीएम को तेजस्वी यादव को बड़े फैसले लेने का अधिकार दे दिया है। लालू ने कहा कि पार्टी के अंदर या सरकार में कोई भी नीतिगत बात हो तो उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ही बोलेंगे। राजद का पक्ष रखेंगे। बाकी कोई व्यक्ति नहीं बोलेंगे। कोई भी अलग-अलग बात नहीं उठाएगा। कोई बात होगी तो राय दे देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.