छपरा में 70 साल के बुजुर्ग की निकली बारात:8 बच्चों के साथ पूरा गांव बना बाराती; नाचते हुए लेने पहुंचे दुल्हनियां

कही-सुनी जानकारी

छपरा में गुरुवार को एक अनोखी बारात निकली। 70 साल के एक बुजुर्ग की बारात में उनकी सात बेटियां और एक बेटे के साथ पूरा गांव बाराती बना। हर कोई बैंड-बाजा और DJ की धुन पर थिरक रहा था। पूरा गांव शादी के जश्न में डूबा रहा। इस अनूठी शादी को देखने के लिए काफी संख्या में लोग जुटे थे। इस शादी से बुजुर्ग दंपती काफी खुश था।

दरअसल, एकमा के आमदाढ़ी निवासी राजकुमार सिंह की शादी 42 साल पहले 5 मई को शारदा देवी (63) के साथ हुई थी। लेकिन पत्नी का दोंगा (गौना) नहीं हुआ था। गौना वह रस्म है जिसमें पत्नी का मायके से अपने पति के घर दूसरी बार जाना होता है। इस रस्म को राजकुमार सिंह और उनके बच्चों ने इस कदर यादगार बना दिया, जिसे वो तो क्या कोई भी नहीं भूल सकता है।

चर्चित सेवन सिस्टर के पिता हैं राजकुमार सिंह
70 के उम्र में दूल्हा बने राजकुमार सिंह चर्चित सेवन सिस्टर्स के पिता हैं। महिला सशक्तिकरण के प्रतीक सातों बहन अलग-अलग फोर्स में जवान है। राजकुमार अपने गांव में आटा-चक्की चलाते हैं। अपनी बेटियों को बिहार पुलिस और सेना में नौकरी दिलाने के लिए काफी संघर्ष किया है। अपने इकलौते बेटे को इंजीनियर बनाया है। बच्चों की जिद की वजह से बुजुर्ग की 70 साल में शादी पूरे इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है। बच्चों की जिद के वजह से राजकुमार सिंह दुल्हा बनकर पत्नी को दुबारा विदा कर घर लाने के लिए गए।

एक-एक बात का ध्यान रख बेटियों ने की शादी की तैयारी


इस चर्चित विवाह के बारे में स्थानीय लोगों ने बताया कि बेटी और बेटे ने माता-पिता की दोबारा शादी के लिए तैयारी कई महीनों से कर रहे थे। शादी में एक-एक बात को ध्यान में रखते हुए बेहतर करने की कोशिश की। बारात में ऑर्केस्ट्रा से लेकर बैंड डीजे, हाथी घोड़ा हर चीज का व्यवस्था की गई थी

Leave a Reply

Your email address will not be published.