चौथी सोमवारी शिवमय हुई बाबा गरीबनाथ की नगरी

आस्था खबरें बिहार की

सावन की अंतिम सोमवारी पर जलाभिषेक के लिए पहलेजा घाट से पवित्र गंगाजल लेकर निकले कांवरियों की भक्ति भीषण गर्मी पर भी भारी पड़ी। बाबा गरीबनाथ की नगरी पहुंचने की होड़ में वे सारी दिक्कतों को दरकिनार कर आगे बढ़ते रहे। रविवार की शाम से कांवरियों की भीड़ शहर में प्रवेश करने लगी। रात आठ बजे से अरघा से जलार्पण शुरू हो गया था। बिहार के मुजफ्फरपुर में स्थित बाबा गरीबनाथ मंदिर में भोलेनाथ का मनोकामना लिंग स्थापित है।

हालांकि, ज्यादातर कांवरिया रात 12 बजने का इंतजार कर रहे थे ताकि सोमवार के दिन बाबा गरीबनाथ का जलाभिषेक कर सके। रात 12 बजते ही कांवरियों का हुजूम अरघा से जलार्पण के लिए मंदिर के बाहर जुट गया। वहां मौजूद सेवा दल के सदस्य भीड़ को नियंत्रित करने में जुटे रहे। मंदिर परिसर से लेकर हरिसभा चौक तक भक्तों की कतार लगी थी। जलाभिषेक का सिलसिला सुबह तक चलता रहा। सुबह करीब चार बजे शहर के श्रद्धालु भी शामिल होते गए।

प्रधान पुजारी पं. विनय पाठक ने बताया कि हजारों कांवरियों ने जलाभिषेक किया। रात साढ़े नौ बजे आरती व शृंगार किया गया। सोमवार को पान के पत्तों से महाशृंगार होगा।

आरडीएस कॉलेज में मेला घूमने वालों की भीड़

आरडीएस कॉलेज में बने टेंट सिटी में कांवरिया जरूर मौजूद थे लेकिन मैदान में मेला घूमने वालों का तांता लगा था। सिर्फ आरडीएस कॉलेज कैंपस में करीब 20 हजार लोग जुटे थे। इनमें कांवरिया मुश्किल से एक हजार रहे होंगे। बाकी सभी मेला घूमने आए थे।

साहेबगंज से 600 श्रद्धालुओं का जत्था देवघर रवाना

साहेबगंज बाजार के बैद्यनाथपुर हाईस्कूल का मैदान रविवार को श्रद्धालुओं से पट गया। बोलबम कांवरिया संघ के तत्वावधान में 600 श्रद्धालुओं का जत्था 11 बसों से बैद्यनाथ धाम (देवघर) के लिए रवाना हुआ। सलेमपुर निवासी सामाजिक कार्यकर्ता राम अयोध्या राय ने बताया कि सभी श्रद्धालुओं को नि:शुल्क यात्रा करायी जा रही है। इनको फलाहार, भोजन और दवा भी मुहैया कराई जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.