चलती ट्रेन से अलग हुए कोच तो यात्रियों में मचा हड़कंप, बार-बार हो रहीं कपलिंग खुलने की घटनाएं

खबरें बिहार की जानकारी

जमालपुर-भागलपुर रेलखंड पर ट्रेन संख्या-13409 अप मालदा-किउल इंटरसिटी ट्रेन के चार कोच चलते-चलते अलग हो गए, जिससे यात्रियों में हड़ंकप मच गया। बताया जा रहा है कि ट्रेन चार बोगियों से अलग होकर करीब 200 मीटर तक आगे निकल गई थी। इधर, पीछे के कोच तकरीबन 50 मीटर दूर तक रेंगते हुए बिना इंजन के दौड़ गए।

कपलिंग खुलने से अलग हुए कोच

मिली जानकारी के अनुसार, कपलिंग खुल जाने से इंजन डिब्बों से अलग हो गया। इसकी वजह से ट्रेन 52 मिनट लेट से खुली। ट्रेन के दो भागों में विभक्त होते ही पीछे छूटे कोचों में अफरातफरी का माहौल बन गया। हालांकि, इससे किसी जान-माल के नुकसान की कोई सूचना नहीं है। कुल मिलाकर बहुत बड़ा हादसा होते-होते टल गया।

घटना के बारे में स्टेशन अधीक्षक दीपक कुमार ने बताया कि घटना सुल्तानगंज के मसदी पूर्व पोल संख्या 330/27 के पास हुई है। एक्सप्रेस ट्रेन मालदा से किउल जा रही थी। अपने निर्धारित समय से 19 मिनट लेट 10:40 में सुल्तानगंज पहुंची और 10:42 में किउल के लिए रवाना हुई। इसी दौरान पोल संख्या 330/27 के पास अचानक कपलिंग खुल गई और इंजन सहित 16 बोगी के पीछे वाली 4 बोगियां अलग हो गईं। वहीं,16 बोगी इंजन के साथ करीब 200 मीटर आगे बढ़ गए।

एलएचवी कोच ने टाल दिया बड़ा हादसा

घटना की जानकारी स्टेशन अधीक्षक को ट्रेन के गार्ड एस मिन्ज और चालक आईडी कुमार ने दी। सूचना मिलते ही त्वरित कार्रवाई करते हुए स्टेशन अधीक्षक दीपक कुमार, आरपीएफ इंस्पेक्टर रवि यादव, जीआरपी इंचार्ज राजीव रंजन दल बल के साथ मौके पर पहुंचे और खामियों को दूर करते हुए करीब 50 मिनट के बाद गाड़ी को गंतव्य के लिए रवाना किया गया।

वहीं, इसकी वजह से बांका राजेंद्र नगर इंटरसिटी 32 मिनट तक स्टेशन पर रुकी रही और ट्रैक क्लियर होने के बाद 11:49 में राजेंद्र नगर के लिए रवाना हुई। स्टेशन अधीक्षक ने बताया कि अगर एलएचवी कोच नहीं होता, तो एक बड़ा हादसा हो सकता था। एलएचवी कोच में दुर्घटना ना के बराबर घटती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.