बिहार में अब महंगा हुआ बस का सफर, जाने कितना अधिक देना होगा किराया

खबरें बिहार की

Patna: बिहार में बस से सफर करना पहले से अधिक महंगा होगा. बसों के किराये में नया दर लागू करने की घोषणा कर दी गई है. पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के कारण लगातार दरों में परिवर्तन की मांग की जा रही थी, ऐसे में परिवहन विभाग ने अधिसूचना जारी करते हुए बसों का नया किराया तय कर दिया है. संबंधित क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकार 15 दिनों में बसों के बेसिक किराया प्रति किलोमीटर के अनुसार नया किराया तय करेगा. साधारण बसों में अब प्रति किलोमीटर 1.50 रु किराया तय किया गया है, जबकि पहले 0.90 रु था. वहीं, डीलक्स बसों में नई दर 1.70 रु की है, जबकि पहले 1.36 रु था.

डीलक्स एसी बसों में 2 .0 रु प्रति किलोमीटर की दर से किराया लगेगा जबकि पहले 1.50 रुपए प्रति किलोमीटर की दर से लगता था. वॉल्वो और मर्सिडीज़ गाड़ियों में अब प्रति किलोमीटर ढाई रुपए की दर से किराया लगेगा जबकि पहले 2 .0 रु के हिसाब से किराया लगता था. परिवहन विभाग ने बताया है कि बसों के शुरू होने से लेकर खत्म होने के स्थल तक का किराया राज्य और क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकार द्वारा तय किया जाएगा. लंबी दूरी की बसों में पहले 100 किलोमीटर तक बेसिक भाड़ा की आधार पर भाड़े की गणना होगी. एक से एक से 250 किलोमीटर की दूरी के बीच निर्धारित किराए में 20 फ़ीसदी की कमी वहीं 251 किलोमीटर से अधिक पर बेसिक भाड़ा में 30 प्रतिशत कमी की जाएगी.

सिटी बसों के किराए में भी किया गया परिवर्तन परिवहन विभाग ने सिटी सर्विस के बसों के किराये में भी परिवर्तन किया है. नए दरों के मुताबिक सिटी सर्विस में पहले चार किलोमीटर का किराया 1.6 रुपए प्रति किलोमीटर होगा जो पहले 1.24 रु प्रति किलोमीटर था. चार किलोमीटर से अधिक की दूरी पर प्रत्येक 2 किलोमीटर के लिए 1.50 पर अतिरिक्त देने होंगे पहले यह 1.09 रुपए प्रति किलोमीटर था.

 

निजी बसो में नए दर से नही वसूलेंगे किराया परिवहन विभाग द्वारा बसों के किराए में की नई दरें लागू होने के बाद जहां सरकारी बसों में सफर महंगा होगा वहीं निजी बस संचालकों ने नई दर से किराया नहीं वसूलने के फैसला लिया है. कोरोना काल में निजी बस संचालकों ने पहले ही खुद किराया बढ़ाने का फैसला लिया था. मोटर ट्रांसपोर्ट फेडरेशन के अध्यक्ष उदय सिंह ने कहा है कि हम सभी निजी बस संचालक पुराने दरों से ही किराया वसूलेंगे.

परिवहन विभाग में नई दर लागू करते हुए कहां है कि सभी सार्वजनिक स्थानों पर बस किराया की नई सूची लगाएं ताकि लोगों को निर्धारित किराए की जानकारी मिल सके. नई दरों से अधिक भाड़ा वसूल करने पर बस चालकों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी. हर वाहन में किराए की सूची लगाना अनिवार्य होगा साथ ही बसों में बैठने की क्षमता पहले से निर्धारित की गई है. अधिक यात्री बैठाने पर उस पर कार्रवाई होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.