‘बृज मोहन अमर रहे’: अपने ही मौत के जाल में फंस जाता है बृज मोहन, Netflix पर आई दमदार कहानी

मनोरंजन

मिडिल क्लास फैमिली की जिंदगी में पैसे की तंगी के कारण कई बार ऐसे कदम उठाने पर मजबूर होना पड़ता है, जो वह कभी नहीं चाहता. इसके बावजूद अगर समस्या का हल नहीं मिल पाता तो गलत काम करने की दिशा में भटक जाता है. कुछ ऐसी ही मिलती-जुलती नेटफ्लिक्स पर शुक्रवार को रिलीज हुए ‘बृज मोहन अमर रहे’ की कहानी है. बृज मोहन (अर्जुन माथुर) नाम के शख्स के पास लेडिज के कपड़े की दुकान होती है, तंगी हालात की वजह से वह दिल्ली के लाजपत नगर के एक दुकानदार के झासे में आ जाता है और एक लेनदार से 25 लाख रुपये उधार लेता है. बुरी तरह फंसने के बाद वह लेनदार रघु भाई (सनी हिंदुजा) को पैसे नहीं लौटा पाता.

लेनदार रघु भाई को पैसे न मिल पाने की वजह से बृज मोहन को पीटता भी है और फिर हाथापाई में उसके हाथों कुछ ऐसा हो जाता है कि रघु की मौत हो जाती है. फिर यहां से पूरी फिल्म का सीन ही बदल जाता है. जिसके बाद बृज मोहन के बाद जन्म लेता है अमर सेठी. यहां से कहानी का रुख ही बदल जाता है.

बृज मोहन अपने ही द्वारा बुने हुए मौत के जाल में फंस जाता है. फिल्म ट्रेजेडी, ट्विस्ट और ड्रामा का तड़का है. कुल 1 घंटे 40 मिनट की फिल्म में कई बार ऐसे हादसे होते हैं, जिसे देखकर आप हंसेंगे भी और कभी-कभी चौंक भी जाएंगे. तेज रफ्तार में भागती हुई फिल्म आपको आगे की आने वाली घटना से बेखबर रखती है.

बृज मोहन अमर रहे’ में लीड एक्टर के तौर पर अर्जुन माथुर हैं, जबकि अन्य कास्ट में निधि सिंह, मानव विज, शीतल ठाकुर, योगेंद्र टीकू जैसे मंझे हुए कलाकार भी हैं. इस फिल्म के डायरेक्टर निखिल नागेश भट्ट हैं. नेटफ्लिक्स पर ‘सेक्रेड गेम्स’ की सफलता के बाद, इंडिया में लोगों में इसका क्रेज काफी बढ़ता हुआ देखा गया.

हिन्दी में ‘लस्ट स्टोरी’, ‘लव पर स्क्वायर फुट’ को भी व्यूअर्स ने पसंद किया. ज्यादातर यूथ वर्ग के लोग बढ़-चढ़कर नेटफ्लिक्स के सीरीज और फिल्मों की ओर आकर्षित हो रहे हैं. नेटफ्लिक्स ने हाल ही में यह भी ऐलान किया है कि भारतीय सिनेमा में इतिहास रचने वाली फिल्म ‘बाहुबली’ का प्रीक्वल लेकर आने वाले हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.