Breaking: समस्त बिहारियों के लिए बड़ी खुशखबरी। अपने राज्य में यह LPG PLANT को मिली मंजूरी

खबरें बिहार की

पटना: बड़ी खबर है इससे पहले आपको बता दे की बिहार के पूर्वी चंपारण के पानापुर रंजिता पंचायत में छपवा-हरसिद्धि रोड स्थित ढाब टोला में एचपीसीएल गैस प्लांट का निर्माण कार्य जो 2016 में शुरू हो चूका था। निर्माण को लेकर एचपीसीएल के डीजीएम आर के तिवारी, आरएम वरुण कुमार, पीएम अमर कुमार, एसएम लावा लेप्चू आदि ने निरीक्षण किया और काम शुरू कराया . निर्माण में किसी तरह का उपद्रव नहीं हो इसके लिए मौके पर बड़ी संख्या में पुरुष और महिला बल तैनात किए गए थे।

गौरतलब था कि काफी दिनों से प्लांट बिठाने को लेकर ग्रामीणों व कंपनी में मतभेद चल रहा था. इस मुद्दे पर विधायक राजेन्द्र कुमार, कंपनी के अधिकारियों और ग्रामीणों की बैठक हुई. बैठक में ग्रामीणों खासकर महिलाओं ने किचन शेड, शौचालय और रास्ता वगैरह बनाने जैसी कुछ मांगे रखी. इसे कंपनी ने मान लिया और फिर सुचारु रूप से काम होने लगा।

अधिकारियों के मुताबिक 33 एकड़ जमीन में बन रहा यह बिहार का दूसरा और सबसे बड़ा प्लांट है. जिसका निर्माण दिसंबर 2018 तक इसका निर्माण कार्य पूरा हो जाना था . वो आज पूरा हो गया है।पर्यावरण मंत्रालय ने सार्वजनिक उपक्रम हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) को बिहार के पूर्वी चंपारण जिले में द्रवित पेट्रोलियम गैस (एलपीजी) संयंत्र स्थापित करने की मंजूरी दे दी है।

पानापुर और कुबेया गांवों में 30 एकड़ भूमि पर स्थापित होने वाले इस संयंत्र के तहत बॉटलिंग और भंडारण क्षमता की स्थापना पर 136.4 करोड़ रुपये का निवेश होगा। बिहार में पूर्णिया और पटना के बाद एचपीसीएल का यह तीसरा संयंत्र होगा। यहां प्रतिदिन 50,000 एलपीजी सिलिंडर भरे जा सकेंगे। कंपनी ने शुक्रवार को बयान में कहा कि पर्यावरण मंत्रलय ने कुछ शर्तो के साथ कंपनी को यह मंजूरी दी है। इसमें ठेके पर 250 से ज्यादा स्थानीयों कर्मियों को रोजगार मिलेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.