बीजेपी नेता का बयान- दिल्ली का जामा मस्जिद पहले ‘जमुना देवी’ का मंदिर था

अंतर्राष्‍ट्रीय खबरें

ताजमहल को शिव मंदिर बताने वाले भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता विनय कटियार का कहना है कि दिल्ली का जामा मस्जिद पहले जमुना देवी का मंदिर था। दरअसल गुजरात विधानसभा के चुनाव के लिए वोटिंग की तारीख नजदीक आते ही राम मंदिर का मुद्दा गरमा गया है। बीजेपी के कुछ नेताओं ने तो राहुल गांधी को बाबर भक्त और खिलजी की औलाद बताते हुए मंदिर वहीं बनाने की बात कह डाली है। इससे आगे बढ़ते हुए विनय कटियार ने कांग्रेस नेताओं को बाबर, शाहजहां और औरंगजेब की औलाद बताया है। विनय कटियार का कहना है कि कांग्रेस जानबूझकर राम मंदिर निर्माण के मामले में अड़ंगा डाल रही हैं। इसलिए कपिल सिब्बल ने यह कहा है कि 2019 के बाद इसकी सुनवाई हो। कपिल सिब्बल पर बरसते हुए विनय कटियार ने कहा है कि उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में जो बात कही है वो गलत है। इसी कारण से हंगामा मचा हुआ है, नहीं तो अब तक कब का मंदिर बन जाता। इस केस को टालने का काम हमेशा से कांग्रेस करती रही है।

आज तक की खबर के मुताबिक विनय कटियार ने कहा- मंदिर औरंगजेब ने तोड़ा था। मथुरा और काशी विश्वनाथ में हमारे मंदिरों को तोड़ा गया है। हम विषय उठाना नहीं चाहते, ये जो दिल्ली की जामा मस्जिद है वो जमुना देवी का मंदिर है। अगर इस विषय में पड़ेंगे तो साढ़े 6 हजार हमारे स्थान हैं। फिर हम उन पर डेरा डालेंगे।

आपको बता दें कि विनय कटियार ने जामा मस्जिद को जमुना देवी का मंदिर बताने से पहले ताजमहल को भगवान शिव का मंदिर बताया था। विनय कटियार ने तब कहा था कि ताजमहल का असली नाम तेजोमहालय है और ये एक शिव मंदिर था। विनय कटियार के मुताबिक भगवान शिव के मंदिर को तोड़कर ताजमहल बनाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.